पीरियड्स में हो ये गड़बड़ी तो समझों बीमारियां शुरू, क्या खाएं और क्या नहीं

माहवारी यानि पीरियड्स औरतों के लिए कोई समस्या नहीं बल्कि एक नेचुरल प्रोसेस हैं। आमतौर पर महिलाओं को 21 दिन बाद पीरियड्स आ जाते हैं लेकिन कई बार दिन आगे-पीछे हो जाते हैं। महिलाएं अनियमित पीरियड्स को लंबे समय तक इग्नोर करती हैं, जोकि सही नहीं है। दरअसल, पीरियड्स में गड़बड़ी कई बीमारियों को न्यौता देती है। शोध के मुताबिक, गलत खान-पान के कारण हार्मोन्स में गड़बड़ी, वजन बढ़ना, डायबिटीज, प्रजनन क्षमता और हार्मोंन्स भी प्रभावित होते हैं। वहीं, कई बार तो महिलाओं को खुलकर ब्लीडिंग भी नहीं होती, जिसका सीधा कनैक्शन आपकी डाइट से हो सकता है। इन दिनों में खाया गलत खान-पान ना सिर्फ पीरियड्स साइकल पर असर डालता है बल्कि इससे कई बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। चलिए आपको बताते हैं कि पीरियड्स में क्या खाएं और किन चीजों से परहेज करें...

सबसे पहले जानते हैं कि पीरियड्स में क्या खाएं

सबसे जरूरी चीज

दिनभर में कम से कम 8-9 गिलास पानी पीएं लेकिन ठंडा नहीं गुनगुना। इसके अलावा इन दिनों में 1-2 कप चाय या दूध भी पीएं और ज्यादा से ज्यादा गर्म चीजे खाएं।

आयरन व विटामिन्स

चूंकि इन दिनों में शरीर से खून बाहर निकलता है इसलिए डाइट में आयरन से भरपूर चीजें जैसे हरी सब्जियां, ब्रोकली, पालक, मटर, बीन्स, पनीर, टोफू आदि खाएं। विटामिन बी के लिए अंडे, नट्स और सीफूड ले, जिससे शरीर को ताकत मिलेगी।

कैल्शियम व मैग्नीशियम

कैल्शियम भरपूर आहार जैसे अंडा, दूध आदि जरूर लें, जिससे डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होगी। मैग्नीशियम पीरियड्स दर्द के कम करता है इसलिए पालक, एवोकाडो, केला, बादाम आदि को डाइट में शामिल करें।

आटे का हलवा

दिन में एक बार आटे और गुड़ का हलवा बनाकर खाएं। इससे नान सिर्फ पेट साफ होगा बल्कि दर्द भी कम होगा।

एलोवेरा जूस

एलोवेरा जूस में 1 चम्मच शहद और पानी मिक्स करके दिन में 1 बार पीएं। इससे दर्द, कमोजरी और हैवी ब्लीडिंग से राहत मिलेगी।

तुलसी का काढ़ा

तुलसी का काढ़ा भी अनिमियत पीरियड्स की समस्या नहीं होना देता। साथ ही इससे इन दिनों में होने वाली प्रॉब्लम्स भी दूर होती है। इसके लिए 1 कप पानी में साफ 7-8 तुलसी की पत्तियां व 1 चम्मच शहद उबालकर पीएं।

अब जानिए किन चीजों से करें परहेज

- तला-भुना खाना, बेक्ड फूड, बिस्कुट, चॉकलेट, केक और पेस्ट्री एस्ट्रोजन हॉर्मोन बिगाड़ सकती है, जिससे पेट और कमर दर्द की समस्या हो सकती है।

- ठंडी तहसीर वाली चीजें, हाई शुगर फूड्स, सैचुरेटेड, डिब्बाबंद खाना, प्रोसेस्ड, ज्यादा वसा, रैड मीट, फास्ट फूड, आचार या खट्टी चीजें खाने से परहेज करें। इससे पेट में सूजन और दर्द बढ़ सकती है।

- अक्सर महिलाएं दर्द से छुटकारा पाने के लिए दवा का सेवन करती हैं जोकि गलत है।

इन बातों का रखें खास ख्याल

1. नहाने के लिए गर्म पानी का यूज करें। साथ ही स्नान करते समय 1 मग गर्म पानी पेड़ू पर जरूर डालें। इससे दर्द से राहत मिलेगी।

2. पेट में ज्यादा दर्द हो तो गर्म पानी की बोतल से सेंक करें। इससे ब्लीडिंग भी खुलकर होगी।

3. हार्ड वर्कआउट करने की बजाए योग, हल्की-फुल्की एक्सरसाइज भी जरूर करें।

 posted by -दीपिका पाठक