बिहार : पिछले 24 घंटे में कोरोना के 4786 नए मामले आए सामने

पटना: बिहार में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 4786 नए मामले सामने आए तो इस महामारी की शुरुआत के बाद से राज्य में एक दिन में आए सबसे अध‍िक मामले हैं. वहीं राजधानी पटना में सबसे ज्यादा 1483 नए मरीज मिले हैं. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. राज्य में कोरोना संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे के दौरान 21 और लोगों की मौत हो जाने से इससे मृतकों की संख्या बढ़कर बुधवार को 1651 पहुंच गई. इस रोग से अब तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 295171 हो गयी. स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से जिन 21 मरीजों की मौत हुई उनमें भागलपुर एवं पटना में चार-चार, जमुई में दो, बांका, दरभंगा, गया, खगडिया, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, नवादा, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, सिवान एवं वैशाली में एक-एक मरीज की मौत हो जाने के साथ प्रदेश में इस रोग से संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या बुधवार को बढ़कर 1651 हो गयी.

विभाग के अनुसार मंगलवार की शाम चार बजे से बुधवार की शाम चार बजे तक कोरोना वायरस संक्रमण के जो 4786 नए मामले प्रकाश में आए हैं उनमें प्रदेश की राजधानी पटना में सबसे अधिक 1483 प्रकाश में आए हैं. बिहार में कोरोना संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित अन्य प्रमुख जिलों में भागलपुर एवं गया में 334-334, मुजफ्फरपुर में 242, भोजपुर में 166, जहानाबाद में 128, औरंगाबाद में 122, सारण में 117, समस्तीपुर में 112, बेगूसराय एवं गोपालगंज में 105-105, सहरसा में 103, पूर्णिया में 98, बक्सर, मुंगेर एवं पश्चिम चंपारण में 97-97, पूर्वी चंपारण में 92, सिवान में 88, रोहतास में 69, सीतामढी में 60 एवं वैशाली में 57 मामले पिछले 24 घंटों के दौरान प्रकाश में आए हैं.

पिछले साल कोरोना महामारी की शुरूआत होने से लेकर अब तक बिहार में इससे संक्रमित होने वालों की संख्या 295171 पहुंच गयी है जिनमें से 2,69,795 मरीज ठीक हुए जिनमें पिछले 24 घंटे के भीतर ठीक हुए 1189 मरीज भी शामिल हैं. राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कुल 100134 नमूनों की जांच की गयी जबकि गत साल कोरोना महामारी की शुरूआत होने से लेकर अब तक प्रदेश में 2,48,43,640 नमूनों की जांच की गयी है. इस बीच बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने मंगलवार को पटना स्थित कोविड अस्पताल नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल का दौरा किया और मरीजों एवं चिकित्सकों से मिल कर चिकित्सा एवं व्यवस्था सम्बन्धित जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिए.