15 मई तक जारी होंगे एमपी बोर्ड 9वीं और 11वीं के नतीजे

MPBSE MP Board 9th 11th Exam 2021: मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) की कक्षा 9 और 11 की वार्षिक परीक्षाओं के नतीजे 15 मई तक जारी कर दिए जाएंगे। इन कक्षाओं के छात्रों का मूल्यांकन पूर्व में ली गई परीक्षाओं या टेस्ट के आधार पर किया जाएगा। लोक शिक्षण आयुक्त ने संशोधित आदेश जारी कर यह जानकारी दी। कोरोना वायरस महामारी के कारण अभी स्टाफ की कमी के चलते टेस्ट और अर्द्धवार्षिक परीक्षा के आधार पर नतीजे जारी करने में समय लग रहा है। 

इससे पहले एमपीबीएसई की ओर से सूचना में कहा गया था कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देशानुसार कक्षा 9वीं एवं 11वीं के विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षा नहीं ली जाएगी तथा उनका मूल्यांकन अकादमिक सत्र के दौरान पूर्व में किए गए मूल्यांकन के आधार पर किया जाएगा। 

स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में राज्य के सभी जिलाधिकारियों को सूचना भेज दी गई है। जिलाधिकारियों को भेजी सूचना में कहा गया है कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण के विस्तार तथा जिलों में कोरोना लॉकडाउन (कर्फ्यू) की स्थिति को देखते हुए कक्षा 9वीं एवं 11वीं की वार्षिक परीक्षा के लिए पूर्व में जारी निर्देश निरस्त किए जाते हैं। अब कक्षा 9 और 11 के विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षा नहीं ली जाएगी तथा उनका मूल्यांकन अकादमिक सत्र के दौरान पूर्व में किए गए मूल्यांकन के आधार पर किया जाएगा।

ऐसे तैयार होगा रिजल्ट :

एमपी स्कूल शिक्षा विभाग के अनुसार, विभाग द्वारा 20 नवंबर से 28 नवंबर तक लिए गए रिवीजन टेस्ट तथा एक फरवरी से 9 फरवरी तक आयोजित अर्धवार्षक परीक्षा में से विद्यार्थियों द्वारा जिसमें बेहतर अंक प्राप्त किए हों उसके आधार पर कक्षा 9, 11 का परीक्षा परिणाम घोषित किया जाएगा।

परीक्षा परिणाम की गणना बेस्ट फाइव (Best Five) के आधार पर की जाएगी। अर्थात यदि विद्यार्थी 6 में से 5 विषय में पास है और छठवें विषय में 33 फीसदी अंक नहीं है तो भी छात्र को पास घोषित किया जाएगा।

एक से अधिक विषयें में न्यूनतम अंक न प्राप्त करने वाले छात्र कों कृपांक के रूप में 10 अंक दिए जाएंगे इस प्रकार 2-3 विषय में भी यदि छा दो-दो, तीन-तीन नंबर से फेल है तो उसे पास माना जाएगा।