तीन माह बीस दिन में दो बच्चों के जन्म मामले पर मुकदमा दर्ज

गाजीपुर। इंटर कॉलेज सुहवल के सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य ओंकार नाथ सिंह द्वारा न्यायालय के माध्यम से अंतर्गत धारा 156 (3) द0 प्र0 सं0 के तहत थाना सुहवल गाजीपुर में मुकदमा पंजीकृत कराया है। वाकया सुहवल इंटर कालेज के सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गाजीपुर को आवेदन पत्र के माध्यम से अवगत कराते हुए बताया है कि इंटर कालेज सुहवल के वर्तमान प्रभारी प्रधानाचार्य हरेन्द्र सिंह और उनकी पत्नी मीना देवी ने एक दूसरे से साजिश करके अपने पुत्र नवीन सिंह देव व मनीष सिंह देव की जन्मतिथि 27 जून 1988 एवं 17 अक्टुबर 1988 लिखवाया है। यही जन्मतिथि प्राइमरी, जूनियर हाईस्कूल एवं हाई स्कूल के दस्तावेजों में भी अंकित है इस प्रकार इन दोनों पुत्रों की जन्मतिथि में मात्र तीन माह बीस दिन का अंतराल जो प्रकृति को चुनौति दे रही है। इन्हीं जन्मतिथियों का लाभ लेकर नवीन सिंह देव उच्चप्राथमिक विद्यालय उदहां, शिक्षा क्षेत्र रेवती, जिला बलिया में सहायक अध्यापक पद पर कार्यरत हैं और दूसरा पुत्र मनीष सिंह देव वायु सेना में सैनिक के पद पर एयरफोर्स स्टेशन बिहटा, पटना, बिहार में कार्यरत है और ऐसी कूटरचित जन्मतिथि के आधार पर दोनों पुत्रों को सरकारी सेवा में नियुक्त कराया गया जो सरकारी धन वेतन के रूप में प्राप्त कर रहे हैं जो एक गंभीर अपराध है। इस आशय का आवेदन पत्र श्री सिंह ने कई बार पुलिस के उच्चाधिकारियो को दिया था जिसपर कोई कार्यवाही नही होने से माननीय न्यायालय के शरण में जाना पड़ा। जिसके परिणाम स्वरूप उक्त प्रकरण पर सुनवाई के बाद मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट गाजीपुर ने उक्त प्रकरण पर संज्ञान लेते हुए मुकदमा दर्ज कर विवेचना का आदेश दिया है।