जब विद्या बालन का बढ़ता वजन बन गया था राष्ट्रीय मुद्दा, एक्ट्रेस बोलीं- खुद के शरीर से होने लगी थी नफरत

विद्या बालन एक ऐसी एक्ट्रेस हैं, जिन्होंने हमें न केवल अपनी एक्टिंग से, बल्कि अपनी जिंदगी जीने के तरीके से भी प्रेरित किया है। पद्मश्री से सम्मानित इस एक्ट्रेस ने फिल्मों में अलग तरह के चैलेंजिंग किरदारों को निभाने के लिए दूसरी हीरोइन की तरह जीरो फिगर वाली इमेज को पाने की दीवानगी नहीं दिखाई और सफल भी रहीं। विद्या की जिंदगी में एक वक्त ऐसा भी था, जब तेजी से बढ़ते वजन की वजह से वह बॉडी शेमिंग की शिकार हो रही थीं।
कई बार विद्या बालन को उनके बढ़े वजन के चलते ट्रोल भी किया गया। लेकिन, एक्ट्रेस ने इस तरह की बातों पर कभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। लेकिन, अब एक्ट्रेस ने अपने वजन पर खुलकर बात की है। विद्या बालन का कहना है कि एक समय ऐसा था जब वह अपने शरीर से नफरत करने लगी थीं, और ये उनके जिंदगी की सबसे बड़ी समस्या बन गयी थी। क्योंकि उनका बढ़ा वजन नेशनल मुद्दा बन गया था। एक इंटरव्यू में विद्या बालन ने कहा कि उन्हें अब इन सब बातों से फर्क नहीं पड़ता कि लोग हमारे बालों की लंबाई, हाथों की मोटाई, कर्व्स और हाइट पर क्या कहते हैं। उन्होंने कहा-मेरे लिए यह महत्वपूर्ण है कि मैं किन सब बातों से गुजरी और मैंने क्या किया। यह पब्लिक था और बहुत ही अपमानजनक भी था। मैं एक गैर-फिल्मी परिवार से आती हूं। मुझे यह बताने वाला कोई नहीं था कि क्या करना है क्या नहीं। मेरे वजन का मुद्दा राष्ट्रीय मुद्दा बन गया था। मैं हमेशा से एक मोटी लड़की थी। मैं ऐसा नहीं कहूंगी कि मेरा बढ़ता वजन मुझे परेशान नहीं करता। लेकिन, मुझे काफी कुछ से गुजरना पड़ा है। वह आगे कहती हैं-मुझे हमेशा से ही हार्मोन्स संबंधी परेशानियां रही हैं। काफी लंबे समय तक, मुझे अपने शरीर से नफरत थी। मुझे लगा कि मुझे मेरे शरीर ने धोखा दिया है। जिन दिनों मैं सबसे अच्छे दिखने के दबाव में थी, मैं फूल रही थी। मेरा वजन बढ़ने लगा था और मैं ये देखकर बहुत ही निराश हो गई थी। लेकिन, बाद में मैंने अपने वजन को अपना लिया। लेकिन, इसमें थोड़ा समय जरूर लगा।