अवैध टैक्सी स्टैंड उ. प्र. परिवहन निगम को लगा रहा है प्रतिदिन लाखों का चूना

गोंडा । जनपद गोंडा में उत्तर प्रदेश परिवहन निगम बस अड्डा के निकट अनाधिकृत तरीके से चलाए जा रहे डग्गामार वाहनों का स्टैंड बना हुआ है, यहां जमवाड़ा डाले डग्गामार वाहन व चालक के करतूतों से उत्तर प्रदेश परिवहन निगम को प्रतिदिन लाखों का घाटा हो रहा है ,वही पुलिस जवानों की अच्छी कमाई हो रही है।बताते चलें कि इन दिनों उत्तर प्रदेश परिवहन निगम गोंडा बस अड्डा के पास प्राइवेट वाहनों का जमवाड़ा लगा रहता है, यहां से बहराइच जाने के लिए यात्रियों को अपने प्राइवेट वाहन में बैठाने के लिए आए दिन उ.प्र.परिवहन निगम की बसों से यात्रियों को उतारकर अपने प्राइवेट वाहन में बैठा लेते हैं इसी को लेकर आए दिन निगम के चालक व परिचालक से झड़प होती रहती है। यही नहीं यदि मानसिक विक्षिप्त वह घर से रूठ कर आई युवती वह लड़की बस अड्डे पर पहुंच गई तो प्राइवेट डग्गामार वाहन चालक- परिचालक उसका शोषण करने से नहीं चूकते हैं यही नहीं सबसे खतरनाक स्थिति तब हो जाती है जब यह डग्गामार वाहन महिला यात्रियों से बदसलूकी करने से भी नहीं चूकते हैं । सूत्रों का कहना  कि बस अड्डे के समीप यह अवैध टैक्सी स्टैंड कुछ  दबंग किस्म के लोगों द्वारा चलाया जा रहा है। जिसे हटाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।इस संबंध में उत्तर प्रदेश परिवहन निगम गोंडा के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक से बात किया गया तो उन्होंने बताया अवैध टैक्सी स्टैंड के चलते परिवहन निगम को काफी घाटे का सामना करना पड़ रहा है इसके लिए उन्होंने दिनांक 12- 3-21 को श्रीमान जिलाधिकारी महोदय गोंडा को पत्र लिखकर अवैध टैक्सी स्टैंड हटाने के लिए मांग किया है लेकिन अभी तक इस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है। अब देखना यह है कि उत्तर प्रदेश परिवहन निगम को घाटे से बचाने के लिए जिला प्रशासन कब  चेतेगा ।