ओवैसी एवं राजभर ने भरी हुंकार जुटी भारी भीड़

बलरामपुर : उतरौला ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने रव‍िवार को ज‍िले स्‍थित उतरौला में आयोजित सभा को संबोध‍ित करने पहुंचे। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में 2022 में ओमप्रकाश राजभर को मुख्यमंत्री बनाने का लक्ष्य भागीदारी संकल्प मोर्चा का है। अपने अधिकारों की प्राप्ति के लिए अपने तबके के ही लीडर को चुनना जरूरी है। उन्होंने केंद्र और राज्य सरकारों पर तीखे हमले भी बोले और कहा कि यह एनकाउंटर वाली सरकार अब नहीं चलेगी। अपने संबोधन में उन्होंने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में अपने उम्मीदवारों को बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने की बात कही और विधानसभा 2022 के चुनाव में अपनी पार्टी की तरफ से डॉक्टर अब्दुल मन्नान को यहां का प्रत्याशी भी घोषित किया।  संसद में उन्होंने सुहेलदेव समाज पार्टी के गठबंधन पर कहा कि इससे हमारी पार्टी मजबूत होंगी। सुहेलदेव समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि मैंने मोदी सरकार को 29 जातियों को आरक्षण देने का मामला उठाया था लेकिन मोदी सरकार ने उन्हें आरक्षण नहीं दिया। इससे मैंने भाजपा से इस्तीफा दिया। उसके बाद मैंने नौ पार्टियों को इकट्ठा कर भागीदारी संयुक्त मोर्चा के नाम से नई पार्टी बनाया। राजभर ने कहा कि मुसलमान व‌ राजभजाति के लोग जुटकर भागीदारी संयुक्त पार्टी को वोट देते हैं तब उनकी पार्टी को कोई हरा नहीं सकता है। बसपा व सपा व कांग्रेस की नीतियों की आलोचना करते हुए कहा कि वह जातियों के आधार पर उन्हें फुसलाकर वोट लै‌ लेती है लेकिन उनके हित का कोई काम नहीं करती है। डा अव्दुल मन्नान ने कहा कि ओबैसी व राजभर पार्टी के मिलने से आईएम आई एम मजबूत हुई है। दोनों पार्टियों के मिलने से भाजपा, कांग्रेस,सपा बसपा की नींद उड़ी है। वोट तुम्हरा राज हमारा की सिद्धान्त नहीं चलेगा। जिसकी जितनी संख्या भारी उसकी उतनी भागीदारी होगी। सभा को प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली व जिलाध्यक्ष नूरूदीन‌ उर्फ नूरी, महिला जिलाध्यक्ष डा सबिस्ता जमी, इरफान खान व तमाम जिले व प्रदेश से आये वक्ताओ ने विचार व्यक्त किए।