जनचेतना मिशन का प्रतिनिधिमंडल प्रवर अधीक्षक डाक से मिला


सहारनपुर। जनचेतना मिशन सहारनपुर से जुड़े पदाधिकारियों ने आज नए उपडाकघर खोलने की मांग को लेकर एक पांच सूत्रीय ज्ञापन पोस्ट मास्टर जनरल, डाक विभाग बरेली को सम्बोधित प्रवर अधीक्षक डाक अमराव सिंह को मिशन कम्पाउण्ड स्थित उनके कार्यालय को प्रेषित किया। प्रतिनिधिमंडल ने ज्ञापन में अवगत कराया कि भारतीय डाक विभाग भारतीय व्यवस्था में अत्यंत महत्वपूर्ण विभाग है, जिसकी उपयोगिता अहम है। आजादी से पूर्व से डाक विभाग अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है।

 ज्ञापन में चेयरमैन गुलशन नागपाल व सतेन्द्र आहुजा, संयोजक गोविन्दर सिंह ने बताया कि सहारनपुर के क्षेत्रफल का निरन्तर विस्तार हो रहा है। हर दिशा में सैकड़ों कालोनियां निर्मित हो गयी हैं, जिनमें निरन्तर निवासियों की संख्या बढती जा रही है। परन्तु कई दशकों से नगर सहारनपुर में एक भी उपडाकघर की स्थापना नहीं हुई जिससे नई कालोनियों के निवासियों को काफी दूरी तय करके डाकघर की सेवाएं लेने जाना पड़ता है, पुराने उप डाकघरों में एटीएम मशीनें लगायी जाये। क्योंकि भारत सरकार का शुरू से ही यह उद्देश्य रहा है कि जहां पर बैंक शाखा न हो वहां पर डाकघर अवश्य हो।

और ऐसे शहर के कई क्षेत्र व गांव हैं, जहां बैंक शाखा नहीं है परन्तु डाकघर ही अपनी सेवाओं के साथ-साथ वहां पर बैकिंग सुविधा प्रदान करते हैं। उन उप डाकघरोें में एटीएम मशीन लगायी जाये ताकि जनता को एटीएम कार्ड प्रयोग करने का लाभ मिले, नगर सहारनपुर में वुड कार्विंग व वस्त्र व्यवसाय की बहुत बडी मंडी है, जिसका कारण व्यापारियों की वाणिज्यिक गतिविधियां डाकघर पर निर्भर हैं परन्तु प्रधान डाकघर कार्यालय में मुख्य पोस्ट मास्टर की पिछले कई वर्षों से नियुक्ति नहीं हुई जिस कारण अधीनस्थ कर्मचारी अपनी सेवाएं सही प्रकार से नहीं देते।

और व्यापारियों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, इसलिए तत्काल प्रभाव से पूर्व की भांति मुख्य पोस्ट मास्टर की नियुक्ति की जाए, प्रत्येक उपडाकघर में सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली योजनाओं का प्रचार किया जाये जिससे देश का प्रत्येक नागरिक विभाग से प्राप्त होने वाली सुविधाओं का लाभ ले सके, प्रधान डाकघर के साथ-साथ अन्य उपडाकघरों में ग्राहकों की बैठने, पेयजल व शौचालय की उचित व्यवस्था करायी जाये। प्रतिनिधिमंडल में गुलशन नागपाल, रवि जुनेजा,गोविन्दर सिंह, के.के.के. गर्ग, शिव चन्द्र गुलाटी, नवीन आनंद, सतेन्द्र आहूजा, विजय भाटिया, हरजीत सिंह, शीतल टण्डन, वीरेन्द्र भारती, उरविन्द्र सिंह, रवि बब्बर, मनोज खुराना, आशु सिंधु, रमन चाला, विकास खरबंदा मुख्य रहे।