विधानसभा चुनावों पर शरद पवार का बयान, कहा- सिर्फ असम में जीत हासिल कर पाएगी भाजपा

मुंबई: नेशनल कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने रविवार को दावा किया कि असम को छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी बाकी चार राज्यों में चुनाव हारेगी. उन्होंने कहा कि पांच राज्यों में चुनाव के रुझान से देश को एक नयी दिशा मिलेगी. महाराष्ट्र के पुणे जिले के बारामती शहर में संवाददाताओं से बातचीत में पवार ने चुनावी राज्य पश्चिम बंगाल में (कथित रूप से) शक्ति का दुरुपयोग करने के लिये केंद्र सरकार की आलोचना की .

महाराष्ट्र की शिवसेना की अगुवाई वाली सरकार में पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी भी कांग्रेस के साथ एक घटक है. पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम एवं केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव मार्च-अप्रैल में होने हैं. मतों की गिनती दो मई को होगी .

उन्होंने कहा, ‘....पांच राज्यों में चुनाव परिणाम के बारे में आज बात करना गलत है, क्योंकि इन राज्यों की जनता इस बारे में निर्णय करेगी. जहां तक केरल का सवाल है, वाम दल और एनसीपी एक साथ आये हैं, और हम इस बात को लेकर आश्वस्त हैं कि हमें स्पष्ट बहुमत मिलेगा.' पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तमिलनाडु में लोग द्रमुक एवं इसके अध्यक्ष एम के स्टालिन का समर्थन करेंगे और वे लोग सत्ता में आयेंगे.

एनसीपी प्रमुख ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल में, केंद्र, खास कर बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग कर रही है और एक बहन (मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का हवाला) पर हमला करने का प्रयास कर रही है, जो राज्य के लोगों के लिये लड़ने का प्रयास कर रही हैं.' उन्होंने कहा, ‘मुझे इस बात में कोई शंका नहीं है कि ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस (चुनाव के बाद) सत्ता में बनी रहेगी.'

पवार ने कहा कि असम की स्थिति से वह अवगत हैं, और उनकी पार्टी के लोगों से प्राप्त सूचना के आधार पर ऐसा लगता है कि वहां सत्तारूढ़ भाजपा दूसरों की तुलना में ‘‘अच्छी स्थिति'' में है. उन्होंने कहा, ‘कुल मिला कर बीजेपी असम में सत्ता में बनी रहेगी लेकिन अन्य चुनावी राज्यों में उसे हार का सामना करना पड़ेगा और उन राज्यों में दूसरी पार्टियां सत्ता में आयेंगी.' उन्होंने कहा, ‘मुझे भरोसा है कि इस रुझान से देश को एक नयी दिशा मिलेगी.'