विराट कोहली ने बताया किस कारण वनडे में गेंदबाजी नहीं कर रहे हार्दिक पांड्या

पुणे के एमसीए क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए दूसरे वनडे मैच में टीम इंडिया को इंग्लैंड के हाथों 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इंग्लिश बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो और बेन स्टोक्स ने भारतीय गेंदबाजों की जमकर पिटाई की और 337 जैसे विशाल लक्ष्य को 43.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। कप्तान विराट कोहली को मैच में छठे गेंदबाज की कमी साफतौर पर दिखाई दी, लेकिन हार्दिक पांड्या के टीम में होने के बावजूद भी कोहली ने उनका इस्तेमाल नहीं किया। हार्दिक ने टी-20 सीरीज में काफी अच्छी गेंदबाजी का प्रदर्शन किया था और इंग्लैंड के बल्लेबाजों को बांधकर रखा था। इसी बीच, मैच के बाद विराट ने बताया कि हार्दिक की बॉडी और उनका वर्कलोड मैनेज करना काफी जरूरी है और इसी वजह से वनडे में उनसे गेंदबाजी नहीं करवाई गई। 

टीम इंडिया के कप्तान ने कहा, 'हमको उनकी ( हार्दिक पांड्या) की बॉडी को मैनेज करना होगा। हमको यह समझना होगा कि उनकी जरूरत कहां पर है। टी-20 में उनका इस्तेमाल किया गया था, लेकिन वनडे में उनके वर्कलोड को मैनेज करने किया जा रहा है। हमको आने वाले समय में इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट खेलना है। तो यह हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है कि वह पूरी तरह से फिट रहे।' कोहली ने राहुल की शतकीय पारी की तारीफ करते हुए कहा, 'हमने शुरुआती विकेट जल्दी गंवा दिए थे और एक पार्टनरिशिप की जरूरत थी, जो मेरे और केएल के बीच में हुई। केएल ने एक बड़ी पारी खेली और मैं उनके लिए काफी खुश हूं। और उसके बाद ऋषभ पंत ने मैच को चेंज कर दिया।'

विराट कोहली ने एकबार फिर से अपने शतक से चूक गए और 66 रनों की पारी खेलकर आउट हुए। इस पर बात करते हुए विराट ने कहा कि मैं जिंदगी में कभी शतक के लिये नहीं खेला और शायद यही वजह है कि मैंने इतने कम समय में इतने अधिक सैकड़े लगा दिए। टीम की जीत महत्वपूर्ण है। अगर मैं शतक लगाता हूं और टीम जीत हासिल नहीं करती तो वह कोई मायने नहीं रखता।' भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए केएल राहुल (108) और ऋषभ पंत की 40 गेंदों में खेली गई 77 रनों की ताबड़तोड़ पारी की बदौलत 50 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 336 रन बनाए। जिसके जवाब में इंग्लैंड ने जॉनी बेयरस्टो (124) और बेन स्टोक्स (99) की शानदार पारियों की बदौलत लक्ष्य को 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया।