ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप: साइना नेहवाल चोट के कारण रिटायर

भारत के चार पुरुष शटलरों ने ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप के दूसरे राउंड में जगह बना ली जबकि पूर्व नंबर-1 साइना नेहवाल को चोट के कारण अपने शुरुआती महिला एकल मैच से रिटायर होने के लिए मजबूर होना पड़ा। साइना को दाईं जांघ में परेशानी हो रही थी जिससे उन्होंने बुधवार की रात को डेनमार्क की सातवीं वरीयता प्राप्त मिया ब्लिचफेल्ट के खिलाफ शुरुआती दौर के मैच में रिटायर होने का फैसला किया, तब वह 8-21 4-10 से पिछड़ रही थीं।

पुरुष एकल में दुनिया के 15वें नंबर के खिलाड़ी बी साई प्रणीत ने फ्रांस के टोमा जूनियर पोपोव को 21-18 22-20 से शिकस्त दी जबकि एच एस प्रणॉय ने मलेशिया के डेरेन लियू की चुनौती 21-10 21-10 से समाप्त की।

समीर वर्मा ने ब्राजील के यगोर कोल्हो को 21-11 21-19 से पराजित किया और युवा लक्ष्य सेन ने थाईलैंड के कांटाफोन वांगचारोएन को 21-18 21-12 से हराकर दूसरे दौर में प्रवेश किया। प्रणॉय और प्रणीत को हालांकि अब दूसरे दौर में कड़ी चुनौती का सामना करना होगा जिन्हें गुरूवार को क्रमश: दुनिया के नंबर एक केंटो मोमोटा और दुनिया के दूसरे नंबर के विक्टर एक्सेलसेन से भिड़ना है।

समीर का सामना डेनमार्क के तीसरे वरीय एंडर्स एंटोनसेन से होगा और यह भारतीय खिलाड़ी जनवरी में टोयोटा थाईलैंड ओपन में मिली करीबी हार का बदला चुकता करना चाहेगा। वर्ष 2019 में पांच खिताब जीतने वाले लक्ष्य की भिड़ंत फ्रांस के थामस रोक्सेल से होगी।

मिक्स्ड डबल्स में प्रणव जेरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी को शुरूआती दौर में डेनमार्क के रास्मस एस्पर्सन और क्रिस्टिन बुश की जोड़ी से 15-21 17-21 से हार का सामना करना पड़ा। ओलिंपिक सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु भी दूसरे दौर में डेनमार्क की एल क्रिस्टोफरसेन से भिड़ेंगी।