नीम हकीम खतरे जान

 

मऊ जनपद के मधुबन थाना क्षेत्र के कटाघराशंकर स्थित अवैध रूप से संचालित विमला सेवासदन में ऑपरेशन के बाद जच्चा की मौत से क्षुब्ध परिजनों ने थाने पहुच कर चिकित्सक के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग किया मामले को गंभीरता से लेते हुए मधुबन पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया । रामपुर थाना क्षेत्र के मर्यादपुर हरिजन बस्ती निवासी रामभवन पुत्र विजय का आरोप है कि मैं अपनी पत्नी अनीता देवी को बच्चे की पैदाइश हेतु बीते 21 मार्च की शाम कटाघराशंकर स्थित विमला सेवासदन में भर्ती कराया था जहा रात्रि लगभग 11 बजे उस का ऑपरेशन कर बच्चे की पैदाइश कराई गई।आपरेशन के दौरान चिकित्सकों की लापरवाही के चलते मेरी पत्नी की मौत हो गई।जिस को छुपाकर चिकित्सकों ने मुझ से पच्चीस हजार रुपये लेकर एक स्वीफ्ट कार जिस का नंबर up54 q 0092 था जिस में पत्नी के शव को डाल कर बनारस जाने की बात कहते हुए जाने लगे ।कुछ दूर जाने के बाद मुझे कुछ संदेह हुआ तो मैने 112 नंबर डायल पुलिस को सूचना दिया। सूचना मिलते ही थाना लखंसी की 112 नंबर डायल पुलिस ने स्वीफ्ट कार को रोकवाते हुए एक एम्बुलेंस की सहायता से पत्नी को फ़ातिमा हॉस्पिटल भेजवाया जहा जांचोपरांत चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया तदोपरांत परिजन मंगलवार की भोर लगभग चार बजे मधुबन थाने पहुच कर चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग किया मामले को गंभीरता से लेते हुए मर्यादपुर गाव पहुची मधुबन पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया।