पपीता खाने से सिर्फ फायदे नहीं बल्कि हो सकते हैं ये नुकसान

पपीता विटामिन, फाइबर, कैल्शियम, एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर होता है। ऐसे में इसके सेवन से पाचन तंत्र दुरुस्त रहने के साथ बेहतर शारीरिक विकास होने में मदद मिलती है। मगर वहीं इसका जरूरत से ज्यादा सेवन करने से फायदे की जगह नुकसान झेलना पड़ सकता है। साथ ही कुछ लोगों को इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए। तो चलिए आज हम आपको इसे अधिक मात्रा में सेवन करने के नुकसान बताते हैं...

गर्भवती महिलाएं सेवन करने से बचें

भले ही पपीता सेहत के लिए फायदेमंद होता है। मगर बात गर्भवती महिलाओं की करें तो इन्हें भूल से भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए। असल में, इसमें मौजूद पैपेन नाम का तत्व गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान पहुंच सकता है। इसके कारण बच्चे को जन्म से ही सेहत संबंधी समस्याएं हो सकती है। साथ ही कच्चा पपीता खाने से गर्भपात होना का खतरा रहता है। 

एलर्जी का कारण

अधिक मात्रा में पपीता खाने से एलर्जी की समस्या हो सकती है। इससे त्वचा पर जलन, खुजली आदि की परेशानी का सामान करना पड़ सकता है। इसके अलावा सिरदर्द, चक्कर, बेचैनी आदि भी हो सकता है। 

पेट में गड़बड़ी का कारण

अक्सर लोग कब्ज की समस्या से छुटकारा पाने के लिए फाइबर से भरपूर पपीता का सेवन करते हैं। मगर इसका जरूरत से ज्यादा सेवन मुसीबत में डाल सकता है। इससे पेट खराब व डायरिया की परेशानी हो सकती है। इसके अलावा इसमें मौजूद लेटेक्स तत्व पेट दर्द, ऐंठन की समस्या पैदा करता है। 

ब्लड शुगर संबंधी समस्या

डायबिटीज मरीजों को पपीता का सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए। असल में, इसके सेवन से शरीर में ब्लड शुगर का स्तर कम हो सकता है। 

दिल की धड़कन कम होने का खतरा 

दिल के मरीजों को पपीता खाने से परहेज रखना चाहिए। असल में, इससे दिल की धड़कन कम होने का खतरा रहता है। इसके अलावा दिल संबंधी अन्य समस्याएं भी पैदा हो सकती है। ऐसे में इन्हें डॉक्टर से पूछ कर ही पपीते का सेवन करना चाहिए। 

सांस से जुड़ी समस्या होने का खतरा

अधिक मात्रा में पपीता खाने से सांस लेने में मुश्किल हो सकती है। इसके अलावा बेचैनी, घबराहट का भी सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में इसका अधिक सेवन करने से बचना चाहिए। इसके अलावा पहले से अस्थमा व सांस संबंधी समस्या होने वाले लोगों को इसका सेवन डॉक्टर की सलाह से करना चाहिए। 

posted by -दीपिका पाठक