क्या रंगों से फैल सकता है कोरोना

कोरोना के बढ़े हुए मामलों को देखकर दिल्ली सरकार लोगों से सूखी होली मनाने की अपील कर रही हैं। 

नहीं... रंगों से कोरोना नहीं फैल सकता क्योंकि नॉन-लिविंग (जो चीजें जिंदा ना हो) से वायरस नहीं फैलता। कोई भी वायरस इंसानों व जानवरों के जरिए ही फैलता है। वहीं, कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के छींक व खांसी वाले ड्राप्लेट्स से ही दूसरे व्यक्ति तक पहुंच सकता है। ऐसे में यह दावा गलत है कि चीन के रंग व खिलौनो से वायरस हो सकता है।

डब्लूएचओ का क्या है कहना?

इसपर डब्लूएचओ का कहना है कि यह अफवाह जरूर फैल गई है लेकिन इसमें कोई भी सच्चाई नहीं है। उन्होंने एक नोटिस अपनी वेबसाइड पर लगाया है, जिसमें लिखा है कि चीन से आने वाला सामान पूरी तरह सुरक्षित है और उससे कोरोना वायरस नहीं फैलेगा। इसके अलावा यूएन का भी कहना है कि चीन के रंग, पिचकारी व खिलौने पूरी तरह सेफ हैं इसलिए टेंशन लेने की जरूरत नहीं।

दिल्ली में की जा रही सूखी होली मनाने की अपील

कोरोना के बढ़े हुए मामलों को देखकर दिल्ली सरकार लोगों से सूखी होली मनाने की अपील कर रही हैं। इसके अलावा दिल्ली में मास्क ना पहहने वालों पर भी सख्त एक्शन लिए जा रहे हैं और लोगों को दिशा-निर्देशों का पालन करने के लिए कहा जा रहा है। बता दें कि दिल्ली में बीते हफ्ते 500 से ज्यादा मामले रिपोर्ट किए गए हैं।

बिहार में लगी सार्वजनिक समारोह पर रोक

वहीं, बिहार में होली के दौरान होने वाली सभी सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी गई है। इसके अलावा विदेश या दूसरी जगहों से आने वाले यात्रियों के टेस्ट करने के अलावा भी निगरानी रखी जा रही है। एयरपोर्ट रेलवे स्टेशनों और बस स्टैंड पर जांच बढ़ा दी गई है। जबकि राजधानी पटना में क्वारंटीन सेंटर दोबारा शुरू करने के आदेश दिए गए हैं। इसमें से 2 शहर और 4 गांव में नियम लागू किए गए हैं।

posted by -दीपिका पाठक