उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भी इस बार रहेगा किसानों के भारत बंद का असर

नई दिल्ली : कृषि कानून के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को 106 दिन पूरे हो चुके हैं, ऐसे में किसानों ने तय किया है कि इस आंदोलन को 26 मॉर्च को 4 महीने पूरे हो जाएंगे, इसी तर्ज पर देशभर में भारत बंद का एलान किया गया है। जानकारी के अनुसार ये भारत बंद सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक रहेगा। हालांकि पिछली बार जब संयुक्त किसान मोर्चा ने भारत बंद का एलान किया था उस वक्त गाजीपुर बॉर्डर से भारतीय किसान यूनियन की तरफ से ये कहा गया था कि, इस भारत बंद का असर उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में नहीं होगा। लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा, किसानों की मानें तो आगामी 26 मॉर्च को संपूर्ण रूप से भारत बंद रहेगा। गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने बताया कि, पिछली बार परिस्थितियां कुछ और थीं, लेकिन इस बार संपूर्ण रूप से भारत बंद किया जाएगा। संयुक्त किसान मोर्चा 17 मार्च को मजदूर संगठनों व अन्य जन अधिकार संगठनों के साथ 26 मार्च के प्रस्तावित भारत बंध को सफल बनाने के लिए एक कन्वेंशन भी करेगा। दरअसल 26 जनवरी के दिन हुई हिंसा के कुछ दिन बाद ही भारत बंद का एलान किया गया था लेकिन गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन का नेतृत्व कर रहे राकेश टिकैत ने किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल से साथ एक बैठक की थी। वहीं बैठक के बाद ये कहा गया कि उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में भारत बंद नहीं किया जाएगा, इसके अलावा सभी जगहों पर ये लागू रहेगा।