जानिए प्रेगनेंसी में खाने चाहिए किस रंग के अंगूर

कोरोना के चलते लोग ज्यादातर इम्यूनिटी बढ़ाने पर जो दे रहे हैं। ऐसे में प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या नहीं, महिलाओं के लिए सबसे बड़ा सावल है। इस दौरान महिला को स्वस्थ, संतुलित और मौसम के अनुसार अपनी डाइट बनानी चाहिए। इस मौसम में अंगूर खाना काफी फायदेमंद होता है लेकिन प्रेगनेंसी में इसके कुछ नुकसान भी होते हैं। आज हम आपको यही बताएंगे कि प्रेगनेंसी में अंगूर खाने चाहिए या नहीं...

दिन में कब और कितना खाएं अंगूर

कैल्शियम, आयरन, कोबाल्ट, टारटरिक एसिड, मैंगनीज, सिट्रीक एसिड और विटामिन्स से भरपूर अंगूर प्रेगनेंसी में फायदेमंद होता है। मगर, अधिक मात्रा में इसका सेवन हानिकारक भी साबित हो सकता है इसलिए गर्भवती महिला को एक दिन में एक कटोरी से ज्यादा अंगूर नहीं खाने चाहिए। आप इसे स्नैक की तरह सुबह, शाम, दोपहर में खा सकती हैं। वैसे तो आप किसी भी रंग के अंगूर खा सकती हैं लेकिन काले रंग के अंगूर खाना ज्यादा फायदेमंद होता है।

गर्भावस्था में अंगूर खाने के फायदे

नहीं होगी खून की कमी

प्रेगनेंसी में एनीमिया ना हो इसके लिए डाइट में अंगूर जरूर शामिल करें। इसमें आयरन होता है, जिससे शरीर में हीमोग्लोबीन की कमी नहीं होती।

ऐंठन को दूर भगाए

अंगूर में मैंगनीशियम होता है जिससे प्रेगनेंसी में ऐंठन, चक्कर आना, कमर दर्द, थकावट की समस्या दूर रहती है। इसके अलावा इसमें पॉलीफेनोल होता हैं जो दिल को दुरुस्‍त रखता है। 

दांतों को मिले मजबूती

अंगूर में कैल्शियम और कार्बनिक अम्ल भरपूर होता है, जो मसूड़ों व दांतों की समस्याओं से निजात दिलाता है।

इम्यूनिटी बढ़ाए

एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण अंगूर इम्यूनिटी बढ़ाने में मददगार है। इससे आप बीमारियों से बची रहेंगी और साथ ही मांंसपेशियां भी मजबूत होंगी।

कब्ज से निजात

प्रेगनेंसी में अक्सर कब्ज की समस्या रहती है, जो आगे चलकर बवासीर का रूप ले लेती है लेकिन अंगूर में फाइबर होता है, जो मलत्याग की क्रिया में मदद करता है। साथ ही इससे पेट की समस्याएं भी दूर रहती है।

उल्टी, मितली की समस्या

अंगूर खाने से उल्टी, मितली, मॉर्निंग सिकनेस की दिक्कत भी दूर होती है। आप चाहे तो अंगूर का जूस भी पी सकती हैं।

आंखों के लिए फायदेमंद

मिनरल, विटामिन्स, फाइटोकेमिकल्स से भूरपूर होने के कारण अंगूर का सेवन आंखों की रोशनी भी बढ़ाता है। साथ ही इससे नेत्र रोग भी दूर रहते हैं।

अब जानिए प्रेगनेंसी  में अंगूर खाने के नुकसान

इसमें रेसवेराट्रोल और फाइबर अधिक मात्रा में होता है इसलिए प्रेगनेंसी में अधिक अंगूर खाने से नुकसान भी हो सकता है जो इस तरह है...

1. एक्सपर्ट की मानें तो अंगूर स्वाद में खट्टा होता है इसलिए अधिक मात्रा में इसका सेवन मुंह का स्वाद बिगड़ सकता है।

2. फाइबर अधिक होने के कारण इससे दस्त जैसी परेशानियां हो सकती है इसलिए लिमिट में ही इसका सेवन करें।

3. अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से दस्‍त, सीने में जलन, उल्‍टी, जी मचलाना, वजन बढ़ाना, पेट फूलना जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

4.  ज्‍यादा अंगूर खाने प्रेगनेंसी में जेस्‍टेशनल डायबिटीज होने की संभावना भी बढ़ जाती है।

5.  प्रेगनेंसी की आखिरी महीने में अधिक अंगूर खाने से शिशु का वजन बढ़ सकता है जिससे ज्यादा लेबर पेन और सी-सेक्‍शन का खतरा रहता है।

 posted by -दीपिका पाठक