क्षेत्र में आमद के बाद थाना प्रभारी ने कायम किया कानून का इकबाल।

हरगांव सीतापुर: अपराधों के आगे बेबस पुलिस  थाना क्षेत्र में प्रयास तिवारी आत्महत्या कांड ,किसान आंदोलन व अन्य कई घटनाओं से जूझ रहे हरगांव थाना क्षेत्र की कमान संभालते हुए ही थाना प्रभारी निरीक्षक ने ताबड़ तोड़  कार्यवाही करते हुए  अपराध व अपराधियों पर लगाम लगाकर चंद समय में ही कानून व्यवस्था का राज स्थापित कर शांति व्यवस्था कायम की है । प्राप्त जानकारी के अनुसार हरगांव थाना क्षेत्र के अंतर्गत लगभग दो माह पूर्व प्रयास तिवारी आत्महत्या कांड व किसान आंदोलन को लेकर हरगांव थाना क्षेत्र में माहौल बिगड़ा हुआ था।प्रशासन के सामने स्थितियों को सामान्य करने की चुनौती बनी हुई थी। इसी बीच पुलिस अधीक्षक सीतापुर ने निरीक्षक ओम प्रकाश तिवारी को हरगांव थाने की कमान सौंपी । हरगांव थाने की कमान संभालते ही थाना प्रभारी निरीक्षक ओमप्रकाश तिवारी ने कप्तान की मंशा पर खरा उतरते हुए अपराध व अपराधियों पर ताबड़ तोड़ कार्य वाही करते हुए अपराधियों को क्षेत्र छोड़ने या जेल की हवा खाने के लिए बाध्य कर दिया ।08जनवरी 21को कमान संभालते हुए  28फरवरी तक थाना प्रभारी निरीक्षक ओमप्रकाश तिवारी ने गिरोह अधिनियम, अपहर्ताओं की बरामदगी ,आबकारी अधिनियम के अंतर्गत ताबड़ तोड छापामारी करते हुए 790लीटर शराब के साथ 5शराब बनाने की भट्टियां व 40अभियुक्तों की गिरफ्तारी व कार्य वाही  एवं 11अभियुक्तों को शस्त्र व शस्त्र फैक्ट्री बरामद कर विधिक कार्य वाही कर जेल भेजा।इसके साथ ही तीन भैंसों की बरामदगी करते हुए चार अभियुक्तों को कानून के हवाले किया गया। तथा 67अपराधियों पर गुंडा एक्ट के अंतर्गत कार्य वाही करके 745 लोगों को 107/16के तहत पाबंद किया गया है |लगभग एक सप्ताह पूर्व चंदरा मल्लापुर गांव में दूसरे सम्प्रदाय के युवकों ने गाय को भाला से मार दिया था जिससे क्षेत्र में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने के हालात पैदा हो गए थे परंतु थाना प्रभारी ओ पी तिवारी की सूझबूझ व सक्रियता के  चलते वहां के हालात सामान्य हो गए हैं। इस तरह से थाना प्रभारी हरगांव ओमप्रकाश तिवारी ने अपराध व अपराधियों पर कार्य वाही करते हुए  अपराधों पर लगाम लगाने का हर संभव प्रयास किया है। जिससे क्षेत्र में अमनचैन कायम करने में मदद मिली है ।