यूपी बोर्ड के 9वीं से 12वीं के स्कूली बच्चों को मिलेगी ऑनलाइन करियर काउंसिलिंग की सुविधा

कक्षा 9 से 12 तक के बच्चों को अपनी पसंद का करियर चुनने में अब सरकार मदद करेगी। स्कूली बच्चों की ऑनलाइन करियर काउंसिलिंग करने के लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग यूनिसेफ के सहयोग से पोर्टल तैयार करा रहा है। यूपी बोर्ड से जुड़े स्कूलों में कक्षा 9 से 12 तक के छात्र-छात्राओं के लिए कॅरियर का चुनाव करना बड़ी चुनौती है। इन स्कूलों में पढ़ने वाले अधिकांश बच्चे जिस पारिवारिक पृष्ठभूमि से आते हैं, वहां करियर को लेकर इतनी जागरूकता नहीं है।

सीबीएसई और सीआईएससीई के स्कूलों में तो 10वीं पास करने के बाद ही काउंसलर मार्गदर्शन करते हैं लेकिन यूपी बोर्ड के स्कूलों में ऐसी सुविधा नहीं है। यही कारण है कि बच्चे डॉक्टरी और इंजीनियरिंग के आगे दूसरा करियर सोच भी नहीं पाते। उन्हें जानकारी भी नहीं होती की करियर के दूसरे विकल्प क्या हैं और किस प्रकार उस दिशा में आगे बढ़ा जा सकता है। इसी समस्या को देखते हुए सरकार ने व्यावसायिक शिक्षा विभाग को पोर्टल तैयार करने की जिम्मेदारी दी है। इस पोर्टल का नाम तय करने के लिए शिक्षकों एवं समाज से सुझाव मांगा गया है। अपर शिक्षा निदेशक व्यावसायिक शिक्षा मंज शर्मा ने इस संबंध में सभी जिला विद्यालय निरीक्षकों को पत्र लिखकर प्रत्येक जिले से 4-5 नामों का सुझाव भेजने को कहा है।

इनका कहना है
माध्यमिक स्कूलों के बच्चों की कॅरियर काउंसिलिंग पोर्टल तैयार हो रहा है। उसके लिए नाम का सुझाव मांगा है।
आरएन विश्वकर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक