कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज लेने वाले हेल्थ केयर एवं फ्रंट लाइन वर्कर दें ध्यान..

गोण्डा। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हुए टीकाकरण में स्वास्थ्य कर्मियों और प्रथम पंक्ति के कोरोना योद्धाओं को दूसरी डोज अब सरकारी अस्पतालों में ही दी जाएगी। निजी अस्पतालों में उन्हें टीका नहीं लगाया जाएगा, क्योंकि निजी अस्पतालों में अब मात्र भुगतान के आधार पर ही टीकाकरण का कार्य किया जायेगा। उधर, 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों और 45 साल से ऊपर के गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों को चार और पांच मार्च को टीका लगाया जाएगा। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ देवराज चौधरी ने बताया कि अपर मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन अमित मोहन प्रसाद द्वारा जारी निर्देशानुसार, प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों एवं मेडिकल कॉलेजों में सोमवार से शनिवार तक छह दिवसों में कोविड वैक्सीनेशन का कार्य किया जायेगा। अन्य सभी सरकारी स्वास्थ्य इकाईयों पर सप्ताह के तीन दिवसों क्रमशः सोमवार, वृहस्पतिवार एवं शुक्रवार को टीकाकरण किया जायेगा। निजी अस्पतालों में जहाँ टीकाकरण किया जा रहा है, उनके द्वारा सप्ताह में कम से कम चार दिवसों में टीकाकरण किया जायेगा। सरकारी अस्पताल में टीका निरूशुल्क लगेगा द्य यदि कोई निजी अस्पतालों में यहां टीका लगवाना चाहे, तो उसे 250 रुपये तक का भुगतान करना होगा। वहीं नोडल अधिकारी डॉ मनोज कुमार ने बताया कि टीकाकरण का कार्य प्रातः 9 बजे से सांय 5 बजे तक किया जायेगा। प्रातः 9 बजे से 11 बजे तक पहले रजिस्ट्रेशन करने वाले लाभार्थियों का टीकाकरण किया जायेगा। 11 बजे के बाद अन्य सभी लोग “पहले आओ, पहले पाओ” के आधार पर टीकाकरण करवायेंगे। डॉ मनोज कुमार ने कहा कि जिन स्वास्थ्य कर्मियों और अंग्रिम पंक्ति के लोगों को निजी अस्पतालों में विशेष सत्रों का आयोजन कर कोविड वैक्सीन की पहली डोज दी गई थी, उन्हें दूसरी डोज अब सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर ही दी जाएगी। नोडल अधिकारी डॉ मनोज कुमार ने बताया कि 4 मार्च को जिले के सभी 16 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों, जिला चिकित्सालय (पुरुष), जिला चिकित्सालय (महिला), रेलवे हॉस्पिटल व अर्बन पीएचसी समेत कुल 20 जगहों पर टीकाकरण सत्र आयोजित किये जायेंगे। इस मौके पर कुल 5378 लोगों का टीकाकरण किये जाने की कार्ययोजना विभाग द्वारा तैयार की गयी है। इसमें द्वितीय डोज के टीकाकरण हेतु कुल 1826 हेल्थ केयर वर्कर तथा 60 वर्ष से अधिक एवं 45 से 59 वर्ष के बीच के को-मार्विड (गंभीर बीमारी वाले) 3552 नागरिकों को शामिल किया गया है। सीएमओ डॉ अजय सिंह गौतम के अनुसार, टीका लगवाने हेतु ऑनलाइन पंजीयन एवं तत्काल पंजीयन दो व्यवस्था हैं। ऑनलाइन पंजीयन सत्र शुरू होने के एक दिन पहले तक कराया जा सकता है। पहले से पंजीकृत लोगों को सुबह नौ बजे से 11 बजे तक टीका लगाया जायेगा। तत्काल पंजीयन केंद्रों पर जाकर उसी दिन कराया जा सकता है। ऐसे लोगों को, पहले से पंजीकृत लोगों का टीकाकरण किये जाने के बाद सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे तक टीका लगाया जायेगा।