INDvENG: 2nd टेस्ट में बिल्कुल बदला होगा पिच का मिजाज

भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच 13 फरवरी से चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेला जाना है। पहला टेस्ट भी इसी मैदान पर खेला गया था, जिसे इंग्लैंड ने 227 रनों से जीतकर सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली थी। अब दूसरे टेस्ट के लिए जो पिच तैयार की गई है, कहा जा रहा है कि वह पहले टेस्ट से बिल्कुल अलग है। भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट में विकेटकीपर की भूमिका निभाने की तैयारी कर रहे इंग्लैंड के बेन फॉक्स का मानना है कि चेपक की नई पिच पर कम उछाल होगा और इससे इसी जगह पर हुए पहले टेस्ट की तुलना में जल्दी टर्न मिल सकता है।

चेपक की लाल मिट्टी की पिच से चौथे दिन तक तेज टर्न नहीं मिल रहा था। भारत चार मैचों की सीरीज में 0-1 से पीछे है और ऐसे में मेजबान टीम आगामी मैचों में अपने मजबूत पक्षों के अनुसार खेलना चाहेगी। पिच कैसी दिख रही है, इस बरे में पूछे जाने पर फोक्स ने गुरुवार को कहा, 'यह पिछले मैच से अलग है। यह अगली मिट्टी है, गहरे रंग की मिट्टी। मुझे लगता है कि यह काफी धीमी हो सकती है और शायद कम उछाल मिले। लेकिन पिच को लेकर मेरे पास काफी अनुभव नहीं है लेकिन मुझे ऐसा लगता है।'

पांच टेस्ट खेल चुके 27 साल के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने इस सवाल पर कि क्या पिच से सामान्य की तुलना में जल्दी टर्न मिलेगा, कहा, 'मुझे विकेट पढ़ना आसान नहीं लगता। पिछला विकेट शायद ढाई-तीन दिन तक काफी अच्छा खेला, शायद थोड़ा और अधिक। मुझे लगता है कि यह पिच थोड़ी जल्दी स्पिन लेगी। मैं इसे लेकर काफी आगे के बारे में नहीं सोचना चाहता और देखते हैं कि मैच के दिन क्या होता है और हम उसके हिसाब से ही खेलने की कोशिश करेंगे।' इंग्लैंड की ओर से पिछला टेस्ट 2019 में खेलने वाले फोक्स को अपने साथी खिलाड़ियों से टिप्स मिले हैं और उनका मानना है कि इससे अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का सामना करने में मदद मिलेगी जो अच्छी फॉर्म में हैं।

उन्होंने कहा, 'मैं पिछले मैच खेलने वाले खिलाड़ियों के साथ बात कर रहा था और चीजें समझने की कोशिश की और टिप्स ली। देखते हैं कि फायदा होता है या नहीं। इन्हें अपने खेल के मुताबिक ढालने की कोशिश करूंगा। अपनी सीमाओं के अनुसार खेलूंगा।' फोक्स ने कहा कि लंबे ब्रेक के बाद हमेशा मन में संदेह रहता है लेकिन वह समझ सकते हैं कि जोस बटलर ने इस बीच शानदार प्रदर्शन किया। यह पूछने पर कि क्या ऑफ स्पिनर डॉम बेस के सामने विकेट पर आगे खड़े होकर विकेटकीपिंग करना मुश्किल होगा, फोक्स ने कहा, 'मुझे लगता है कि मैंने उसके सामने काफी विकेटकीपिंग नहीं की है। शायद लायंस (इंग्लैंड की ए टीम) के मुकाबले में उसके साथ खेला। नेट्स पर उसके सामने कीपिंग का काफी समय मिला। मैंने यहां और श्रीलंका में विकेटकीपिंग की।' फोक्स ने कहा कि हाल के समय में उन्हें काफी खेलने को नहीं मिला है इसलिए उन्हें अपने डीआरएस कौशल पर काम करना होगा और इसमें सुधार करना होगा।