IND vs ENG: टेस्ट सीरीज के तीसरे मुकाबले में दर्शकों को ग्राउंड में जाकर मैच देखने की मिल सकती है अनुमति


भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला 5 फरवरी से शुरू होने वाला है। यह कोरोना काल में भारत में खेली जा रही पहली इंटरनेशनल क्रिकेट सीरीज है। इस सीरीज के लिए दोनों ही टीमों के हौसले बुलंद हैं क्योंकि दोनों ने ही अपने आखिरी टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज की है। जहां इंग्लैंड श्रीलंका को उनके ही घर में क्लीन स्वीप करके यहां पहुंचा है, वहीं भारत ने भी ऑस्ट्रेलिया को उनके घर में हराकर पूरी दुनिया में अपना डंका बजाया है। यह सीरीज कई मायनों में खास साबित होने वाली है, जिसमें मैच के दौरान दर्शकों की वापसी भी शामिल है।

अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में होने वाले टेस्ट सीरीज के तीसरे मुकाबले में दर्शकों को ग्राउंड में जाकर मैच देखने की अनुमति मिल सकती है। इस मैच में कितने प्रतिशत दर्शकों को एंट्री मिलेगी, इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। अगर ऐसा हुआ तो यह भारत में कोरोना काल में पहली बार होगा कि दर्शक अपने मनपसंद खेल को मैदान में जाकर लाइव देख सकेंगे। इसके अलावा इस बात की भी उम्मीद जताई जा रही है कि चेन्नई में ही होने वाले दूसरे टेस्ट में दर्शकों की वापसी हो सकती है और इसके मद्देनजर तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन ने बीसीसीआई से बात करने का फैसला किया है।

तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के एक अधिकारी ने बताया कि आरएस रामासामे सोमवार को बीसीसीआई से बात करेंगे उसके बाद ही इस पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा, 'देखिए नए नियमों के मुताबिक 50 प्रतिशत दर्शकों को अनुमति मिल सकती है, तो हम अपने सेक्रेटरी के जरिए बीसीसीआई से बात करेंगे और इसके बाद ही किसी फैसले पर पहुंचेंगे।' टेस्ट सीरीज के लिए अभी दोनों ही टीमें चेन्नई पहुंच चुकीं हैं और अपना एक हफ्ते का क्वारंटाइन पीरियड पूरा कर रही हैं। बता दें कि भारत में आखिरी बार टेस्ट बांग्लादेश के खिलाफ नवंबर 2019 में खेला गया था। इसके बाद कुछ महीने व्यस्त कार्यक्रम और फिर कोरोना वायरस की वजह से एक साल से ज्यादा समय तक भारत में कोई भी टेस्ट मुकाबला नहीं खेला गया है।