IAS IPS PCS free coaching in UP: मुख्यमंत्री अभ्युदय कोचिंग का सीएम योगी ने किया शुभारंभ

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर शुरू मुख्यमंत्री अभ्युदय कोचिंग का आज से शुभारंभ किया गया। इस कार्यक्रम में बताया गया कि अभी तक 50 लाख से ज्यादा उम्मीदवारों ने वेबसाइट को देखा और 5 लाख उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन कराया। इस मौके पर सीएम योगी ने कहा कि यह कोचिंग नहीं बल्कि यूपी के युवाओं के जीवन का पथ प्रदर्शक बनेगा। इस दौरान उन्होंने प्रदेश पांच मंडलों के मेधावियों से संवाद भी किया। उन्होंने कहा कि यह योजना आत्मनिर्भता के पथ पर आगे बढ़ने की योजना है। इससे यूपी के युवाओं को अधिक मात्रा में रोजगार मिलेगा।
इस योजना के तहत 50,000 छात्रों को कल बसंत पचंमी से कक्षाएं दी जाएंगी। इच्छुक अभ्यर्थियों को वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा। वसंत पंचमी में शुरू होने वाली ऑफलाइन कोचिंग के लिए पहले चरण की लिखित परीक्षा में राज्यभर से 50 हजार छात्रों को चयन हुआ है। बाकी छात्र ऑनलाइन कोचिंग ले सकेंगे। स्क्रीनिंग के दौरान किन्हीं परिस्थितिवश जिन छात्रों के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करना मुश्किल होगा, उन्हें कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षित किया जाएगा। ताकि उनके रोजगार सहजनता पूर्वक मिल सके।
प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए सरकार की अभ्‍युदय कोचिंग में महज चार दिन में 4 लाख 84 हजार से अधिक छात्रों ने अपना रजिस्‍ट्रेशन कराया है। वहीं, प्रथम चरण में परीक्षा के माध्‍यम से अभ्‍युदय कोचिंग के लिए विभिन्‍न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए 50 हजार से अधिक छात्रों का चयन किया गया। ऑफलाइन क्लासेज के लिए शुक्रवार रात से पंजीकरण बंद हो गया। ऑनलाइन क्लासेज के लिए पंजीकरण जारी रहेगा। कल 16 फरवरी बसंत पंचमी के मौके पर अभ्युदय कोचिंग के क्लासेज शुरू होंगी।
प्रदेश का कोई भी युवा जो सिविल सेवा, नीट, जेईई, बैंकिंग, टीईटी जैसी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा हो,इस खास पहल का लाभ ले सकता है। इस अभिनव कोचिंग में ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल और लेक्चर आदि तो उपलब्ध होंगे ही, ऑफलाइन क्लास में आईएएस और पीसीएस परीक्षा के लिए प्रशिक्षु आईएएस, आईपीएस, आईएफएस (वन सेवा), पीसीएस अधिकारियों द्वारा मार्गदर्शन दिया जाएगा। जबकि एनडीए और सीडीएस की परीक्षा के लिए प्राचार्य, उत्तर प्रदेश सैनिक स्कूल द्वारा गाइडेंस मिलेगी। यह नहीं, नीट, जेईई, बैंक पीओ, एसएससी और टीईटी आदि परीक्षाओं के लिए भी कक्षाएँ चलेंगी।
मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना' प्रतियोगी छात्रों को निःशुल्क स्तरीय कोचिंग पाने का सुअवसर है। शुरुआती दौर में हर मंडल मुख्यालय में इसकी कक्षायें चलेंगी। बाद में जिला स्तर पर इसका विस्तार होगा। पूरी तरह निःशुल्क इन कक्षाओं में ऑफलाइन और ऑनलाइन प्रशिक्षण तथा विभिन्न परीक्षाओं के पाठ्यक्रम व परीक्षा पैटर्न आदि के संबंध में अभ्यर्थियों को पूरी जानकारी दी जाएगी। साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी (उपाम) द्वारा क्वेश्चन बैंक, प्रश्नोत्तरी आदि भी तैयार कर वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जाएगा।
इस अभिनव कोचिंग में ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल और लेक्चर आदि तो उपलब्ध होंगे ही, ऑफलाइन क्लास में आईएएस और पीसीएस परीक्षा के लिए प्रशिक्षु आईएएस, आईपीएस, आईएफएस (वन सेवा), पीसीएस अधिकारियों द्वारा मार्गदर्शन दिया जाएगा। जबकि एनडीए और सीडीएस की परीक्षा के लिए प्राचार्य, उत्तर प्रदेश सैनिक स्कूल द्वारा गाइडेंस मिलेगी। यह नहीं, नीट, जेईई, बैंक पीओ, एसएससी और टीईटी आदि परीक्षाओं के लिए भी कक्षाएँ चलेंगी।