पटवारी भर्ती परीक्षा को लेकर राजस्थान के CM ने किया ये ऐलान

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को अपने बजट भाषण में ऐलान किया है कि राज्य के युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए आगामी दो साल में 50000 से अधिक पदों पर भर्ती की जाएगी। उन्होंने सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए एक अहम ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि राज्य में ग्रामसेवक, पटवारी और मंत्रालय कर्मचारी जैसे एक समान पात्रता वाले पदों के लिए समान पात्रता परीक्षा शुरू की जाएगी। एक समान परीक्षा योजना के लागू होने के बाद बेरोजगारों को एक पात्रता की अलग अलग भर्तियों में आवेदन से राहत मिलेगी। इससे ना केवल उनको आर्थिक रूप से फायदा होगा, बल्कि भर्ती भी जल्दी पूरी की जा सकेगी। इसके अलावा वन टाइम पुलिस वेरिफिकेशन सिस्टम लागू करने का ऐलान कर बेरोजगारों को एक और राहत दी है।

उन्होंने यह भी कहा कि प्रतियोगी परीक्षा देने जा रहे अभ्यर्थियों के लिए रोडवेज बसों में यात्रा निशुल्क होगी। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं को वर्तमान में देय बेरोजगारी भत्ते को 1000 बढ़ाया जाएगा। पहले 650 करोड़ रुपये देकर 1.60 लाख युवाओं को लाभान्वित किया गया था, अब इस योजना का लाभ दो लाख युवाओं को मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य में राजीव गांधी युवा कोर का गठन किया जाएगा जिसमें 2500 राजीव गांधी युवा मित्रों का चयन किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि सरकार छात्र छात्राओं के लिए 'बैक टू स्कूल' कार्यक्रम शुरू करेगी इसके तहत राज्य के सभी राजकीय विद्यालयों के कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को निशुल्क स्कूल यूनिफार्म तथा कक्षा 6 से 8 विद्यार्थियों के लिए पूरक पाठ्य पुस्तकें निशुल्क दी जाएंगी।