डकैती के आरोप में एक दर्जन पर एफआईआर के आदेश

फर्रुखाबाद। अधिवक्ता के घर डकैती डालने के आरोप में न्यायालय नें चार नामजद और 7-8 अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज करनें के आदेश दिये है। शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला हरभगत स्ट्रीट निवासी अधिवक्ता संदीप औदिच्य नें कोर्ट में अधिवक्ता डॉ० दीपक द्विवेदी के माध्यम से प्रार्थना पत्र प्रेषित किया। जिसमे कहा कि उनके पड़ोसी लक्ष्मी कान्त गुप्ता के भाई कमल कान्त का मकान उनकी माँ मीरा औदिच्य नें खरीद लिया था। जिससे लक्ष्मीकान्त खुन्नस मानने लगे। जिसके चलते आये दिन फर्जी शिकायतें भी करते हैं। उनके खिलाफ एक मुकदमा भी शहर कोतवाली में दर्ज कराया है। जिसकी विवेचना चल रही है। संदीप औदिच्य नें कोर्ट को बताया कि 9 जनवरी व 10 जनवरी की रात लक्ष्मी कान्त गुप्ता उनकी पत्नी इंद्रा गुप्ता, तरुण गुप्ता पुत्र राजीव, अर्चना पत्नी राजीव व लक्ष्मीकान्त की पुत्री जीने का गेट तोड़कर घर में दाखिल हो गये। उसके बाद 7-8 लोग अज्ञात आ गये। आरोपियों के पास तमंचा, तलवार और डंडे थे। तमंचे के बल पर तोड़फोड़ करनी शुरू की। तमंचे के बल पर 35 हजार की नकदी और जेबरात ले लिये और मारपीट भी की। कोर्ट नें प्रकरण में कार्यवाही करते हुए शहर कोतवाली पुलिस को डकैती का मुकदमा दर्ज करनें के आदेश दिये।