मुख्यमंत्री ने जनसमस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के दिये निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनसमस्याओं के गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी द्वारा जनता की समस्याओं और शिकायतों के निस्तारण की नियमित समीक्षा की जाए। उन्होंने सम्पूर्ण समाधान दिवस (तहसील दिवस) तथा थाना दिवस को और प्रभावी बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में प्रत्येक स्तर पर जवाबदेही तय की जानी चाहिए। मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में जन शिकायतों के निस्तारण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने सी0एम0 हेल्पलाइन ‘1076’ का प्रभावी संचालन करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल खण्ड में इस हेल्पलाइन का बेहतर उपयोग करते हुए जरूरतमंदों को राहत उपलब्ध कराने तथा संक्रमण को नियंत्रित करने में काफी मदद मिली। इसी प्रकार आगे भी मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के माध्यम से आमजन की समस्याओं का गुणवत्तापरक समाधान करने के लिए सक्रियता से कार्य करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस सुविधा का लाभ प्राप्त करते हुए अपनी समस्याओं का समाधान करवा सके, इसके दृष्टिगत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया जिस जनपद, तहसील अथवा थाने से अधिक शिकायतें आएं, वहां के सम्बन्धित अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाए। उन्होंने जनसमस्याओं के निस्तारण की स्थिति तथा आवेदक की संतुष्टि के आधार पर जनपद, थाना, तहसील को वर्गीकृत किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इससे प्रभावी अनुश्रवण करने में मदद मिलेगी।