दांत दर्द और मसूड़ों की सूजन का इलाज लौंग, जानिए इसके जबरदस्त फायदे


लौंग में यूजीनॉल नामक एसिड पाया जाता है जो प्राकृतिक एंटीसेप्टिक का काम करता है। इसी लिए इसे नेचुरल पेनकिलर भी कहा जाता है। जिस दांत में दर्द हो वहां लौंग की कली रखकर उसका अर्क चूसें। लौंग कम से कम 20 मिनट जरूर रखें। आप लौंग की कली की जगह इसका तेल भी इस्तेमाल कर सकते हैं। रूई की मदद से दो बूंदें दात पर डालें। कुछ ही देर में दांत दर्द से राहत मिलेगी।
लौंग पानी से गार्गलः मुंह की बदबू और मसूड़े सूजन का आराम
4 से 5 लौंग लें इसे पीसकर चूर्ण बना लें फिर एक गिलास गर्म पानी में इस चूर्ण को मिक्सकर इस पानी से गार्गल करें। मुंह की सारी बैक्टीरिया बाहर निकल जाएगी। मसूड़े सूजन से आराम मिलेगा और मुंह से बदबू की समस्या भी दूर होगी।
त्वचा को मुंहासों से बचाए
लौंग के एंटीफंगल गुण स्किन को मुंहासों से बचाते हैं। इसी के साथ इसमें पाए जाने वाले एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीवायरल गुण शरीर को संक्रमण और सूजन दूर करने में मददगार होते हैं। लौंग की चाय, सब्जी में मिलाकर, लौंग पीसकर मफिन व कुकीज के जरिए आप इसका सेवन कर सकते हैं।
खांसी और कफ से बचाव
खासी होने पर लौंग को मुंह में रख कर चबाएं। इससे खांसी और कफ की समस्या काफी दूर होगी। इसके साथ ही लौंग के तेल की कुछ बूंदे कपड़े पर डालकर उसे बार-बार सूंघने से बंद नाक खुल जाती है।
जोड़ों का दर्द छूमंतर
पानी में लौंग का पाऊडर डालकर गर्म कर लें। इसमें मिश्री मिलाकर पीने से पेट और सीने की जलन दूर होती है। वहीं, जोड़ों पर लौंग का तेल मलने से दर्द गायब हो जाता है।
आंखों की रोशनी बढ़ाए
लौंग पाउडर को बकरी के दूध में मिक्स करें। इसे काजल की तरह आंखों पर लगाने से रतोंधी रोग ठीक हो जाएगा। साथ ही इससे आंखों की रोशनी भी बढ़ती है।
लौंग से जुड़ा वास्तु टोटका
-छोटी-छोटी लौंग की कलियां घर में नकारात्मक ऊर्जा दूर करने में काफी फायदेमंद है। शनिवार या रविवार की शाम 5 लौंग, 3 कपूर और 3 बड़ी इलायची लेकर इसे जलाएं और सुगंधित धुआं घर में फैला दें। इससे नकारात्मक ऊर्जा का नाश होगा और साकारत्मक ऊर्जा का संचार।
-शनिवार को सरसों तेल के दीपक में 3-4 लौंग डालकर जलाएं। इससे भी सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा। घर में खुशनुमा वातावरण बना रहेंगा।

posted by -दीपिका पाठक