हर वक्त खराब रहता है डाइजेशन तो एक बार अजमाकर देखें देसी टिप्स

खाने में हमेशा पौष्टिक व गुणों से भरपूर चीजों को शामिल करना चाहिए। साथ ही भोजन करने से पहले व बाद कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए। नहीं तो पाचन तंत्र धीमा हो सकता है। असल में, भोजन के ठीक से ना पचने के कारण दिनभर परेशानी रहती है। इससे पेट में जलन, दर्द, सूजन, संक्रमण, कब्ज, एसिडिटी, आंतों में सूजन, क्रोहन रोग, अल्सरेटिव कोलाइटिस आदि परेशानियां होने का कारण बनता है। ऐसे में पाचन तंत्र सही होना बेहद जरूरी है। ऐसे में अगर आप भी हमेशा खराब पाचन तंत्र से परेशान रहते हैं तो चलिए आज हम आपको इससे बचने के 6 आयुर्वेद के उपायों के बारे में बताते हैं...

भोजन से पहले करें सलाद या फलों का सेवन 

अपने पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने के लिए भोजन के करीब 30 मिनट पहले फलों या सब्जियों का सलाद खाएं। इसमें फाइबर अधिक होने से आंतों की सफाई होने के साथ वजन कंट्रोल रहने में मदद मिलती हैं। पेट दर्द, कब्ज, एसिडिटी की परेशानी दूर होकर पाचन तंत्र बेहतर तरीके से काम करता है। 

खाने के दौरान गुनगुने पानी या छाछ का करें सेवन 

भोजन को सुचारु रुप से पचाने के लिए खाने के दौरान या बाद में ठंडे की जगह गुनगुने पानी का सेवन करें। साथ ही एक सांस की जगह घूंट-घूंट करके इसे पीएं। इसके अलावा छाछ पीना भी बेस्ट ऑप्शन है। इससे शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ बाहर निकलने में मदद मिलती है। पाचन क्रिया मजबूत होने के साथ सेहत में सुधार आता है। 

एक बार में अधिक भोजन खाने से बचें

अक्सर लोग एक ही बार में भारी मात्रा में चीजों का सेवन करते हैं। ऐसे में पाचन तंत्र धीमा होने के साथ इससे जुड़ी समस्याएं होने लगती है। ऐसे में आयुर्वेद के अनुसार, खाने में कुछ घंटों का गैप डालते हुए थोड़ा-थोड़ा भोजन करना चाहिए। इससे खाना आसानी से पचने के साथ पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है। 

सोने से 3 घंटे पहले डिनर करें

अक्सर लोग देर रात डिनर करने के बाद सीधे सो जाते हैं। मगर इससे उनका पाचन तंत्र कमजोर होने के साथ पेट से जुड़ी परेशानियां होने लगती है। ऐसे में कभी भी खाने के बाद सोने की गलती ना करें। आयुर्वेद के अनुसार, रात को सोने से करीब 3 घंटे पहले डिनर करना चाहिए। इससे खाना पचाने में मदद मिलने के साथ अच्छी नींद आने में मदद मिलती है। 

भोजन करने के बाद करें यह आसन 

खाने के बाद 5 मिनट तक वज्रासन मुद्रा में बैठें। आयुर्वेद के अनुसार, इससे तेजी से खाना पचाने में मदद मिलती है। इसके लिए साथ ही कभी भी खाने के बाद लटने व तेज वॉक करने की गलती ना करें। इससे डाइजेशन सिस्टम खराब होने के साथ पेट से जुड़ी परेशानियां होने का खतरा रहता है। 

भोजन के बाद 15 मिनट तक टहलें

खाने को ठीक से पचाने के लिए भोजन के बाद करीब 15 मिनट या 100 कदम चलें। इससे पाचन क्रिया तेज होने के साथ आंतों में भोजन सड़ने से बचता है। साथ ही वजन कंट्रोल में रहता है। 

इन बातों व नियमों को अपनाकर पाचन क्रिया मजबूत होने में मदद मिलेगी। साथ ही एसिडिटी, कब्ज, गैस, पेट दर्द, आंतों में भोजन के सड़ने की परेशानी दूर होगी। 

posted by -दीपिका पाठक