प्रधानमंत्री आवास व शौचालयों का लाभ देने में धांधली

- सेवता विधायक ने किया निरीक्षण, दिए जांच के निर्देश

रेउसा/ सीतापुर । सेवता विधायक ज्ञान तिवारी बिसवां विकास खंड के ग्राम वसुदहा में जन चैपाल करने पहुंचे। ग्रामीणों की शिकायत पर जब विधायक ने प्रधानमंत्री आवासों व शौंचालय का स्थालीय सत्यापन किया तो नाराज हो उठे। क्योंकि उन्हें हर कदम पर भ्रष्टाचार देखने को मिला। सेवता विधायक ज्ञान तिवारी बिसवां विकासखंड के ग्राम सभा वसुदहा में आयोजित जन चैपाल में पहुंचे थे। यहां पर ग्रामीणों ने प्रधानमंत्री आवास व शौचालय में हुए भ्रष्टाचार की आवाज उठाई। यह सुनकर विधायक ने गांव में जाकर पात्र, अपात्र के प्रकरण को देखा। इस दौरान विधायक ने भी पाया कि सरकारी तंत्र द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना का खुलेआम मजाक बनाया गया है। गांव में जहां चयनित पात्रों के नाम काट दिए गए हैं, वहीं अपात्रों से धन लेकर प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिया गया है। इस पर उन्होंने कड़ी नाराजगी जताई और मौके पर मौजूद खंड विकास अधिकारी बिसवा को स्वयं सत्यापन कर इस प्रकरण में अभियोग दर्ज करने के निर्देश दिए। विधायक ने कहा प्रधानमंत्री आवास हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री मोदी व मुख्यमंत्री योगी की सर्वोच्च प्राथमिकता का कार्यक्रम है। हमारी सरकार की मंशा है कि कोई भी परिवार झोपड़ी व कच्चे मकानों में न रहे। इसको लेकर ग्रामीण आवास योजना तैयार कराई गई थी, लेकिन ऐसी योजना में जबरदस्त भ्रष्टाचार किया गया है। उन्होंने कहा मैंने स्वयं जाकर जांच की जिसमें लाभार्थियों ने कहा प्रति आवास 20 हजार रुपये की वसूली प्रधान व सेक्रेटरी के द्वारा की गई है। मौके पर मौजूद प्रधान व सेक्रेटरी को विधायक ने जमकर फटकार लगाई और कठोरतम कार्रवाई के निर्देश दिए। ग्रामीणों ने विधायक को बताया प्रधानमंत्री आवास व शौचालय में खुलेआम रुपए मांगे जाते हैं, इन दोनों योजनाओं में सरकारी नियमों को दरकिनार किया गया है। जिसके चलते सरकार की योजना का लाभ पात्रों को नहीं मिल पाया है। विधायक ने कहां यह बहुत गंभीर विषय है, हमारी सरकार गांव गरीब किसान के लिए काम कर रही है। लेकिन यह है दुख का विषय है कि सरकारी तंत्र इसमें भ्रष्टाचार कर रहा है। उन्होंने कहा भ्रष्टाचार भले ही निचले स्तर पर किया गया हो, लेकिन इसकी जिम्मेदारी सभी अफसरों को है। विधायक ने बीडीओ से कहा वह प्रधानमंत्री आवास व शौचालय की स्वयं तहकीकात करें और ग्राम सभा के सभी मजरों में जाएं लाभार्थियों का बयान ले और पूरी रिपोर्ट जिलाधिकारी को प्रेषित करें। उन्होंने कहा इस गंभीर प्रकरण में किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षमा नहीं की जाएगी, दोषी सरकारी जिम्मेदारों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी । इस अवसर पर विधायक प्रतिनिधि ओम प्रकाश मिश्रा खंड विकास अधिकारी विकास कुमार सहित ग्रामीण मौजूद रहे।