खतरे की घंटी हो सकता है बार-बार प्यास लगना, जान लें उपाय

डॉक्टर हमें फिट रहने के लिए और बीमारियों से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीने की सलाह देते हैं। कुछ लोग अपनी रूटीन में 2 से 3 लीटर पानी पी जाते हैं जो कि हमारी सेहत के लिए अच्छी बात है लेकिन इतना पानी पीकर भी अगर आपको बार-बार प्यास लगती है तो इसका मतलब है कि आपकी बॉडी आपको कुछ संकेत दे रही है जिन्हें आपको इग्नोर नहीं करना चाहिए क्योंकि बार-बार प्यास लगने से आपको यह गंभीर बीमारियां हो सकती हैं इसलिए समय रहते इसका इलाज जरूर करें।
इन बीमारियों का हो सकता है संकेत
हालांकि ज्यादा पानी पीना हमारी सेहत के लिए अच्छा होता है क्योंकि हम जितना पानी पीते हैं उससे शरीर के सारे गंदी चीजें पेशाब द्वारा निकल जाती हैं। इससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है। हां ज्यादा गर्मी होने के कारण या फिर ज्यादा वर्कआउट करने के कारण आपको प्यास लग सकती है लेकिन अगर बार-बार आपको प्यास लगती है तो यह कुछ गंभीर बीमारियों के लक्षण हो सकते हैं।
पहलें आप जान लें कि ज्यादा प्यास लगने की क्या वजह है?
मेडिकल टर्म में ऐसी स्थिती को पॉलीडिप्सिया कहा जाता है जिसमें एक व्यक्ति ज्यादा पानी पीता है जिसके कराण उसके शरीर में सोडियम की कमी होने लगती है। कईं बार आप ने यह भी नोट किया होगा कि ज्यादा पानी पीने के कारण कईं बार आपका मन भी घबरा जाता है और आपको उल्टी जैसा होना लगता है।
शरीर देता है इन बीमारियों के संकेत
1. हो सकती है डिहाईड्रेशन
इसका सबसे बड़ा कारण यह हो सकता है कि आपके शरीर में पानी की कमी है जिसकी वजह से आपको बार-बार पानी की प्यास लग रही है।
क्या हैं इसके लक्षण
. बार-बार प्यास लगना
. मुंह सूखना
. थकान
. उल्टी
. मतली और बेहो
अगर आपको भी ऐसे लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो आप तुंरत डॉक्टर से संपर्क करें।
2. डायबिटीज का खतरा
अगर आपको बार-बार प्यास लगती है तो इसे नजरअंदाज न करें क्योंकि इससे आपको डायबिटीज का खतरा हो सकता है। आज कल डायबिटीज तो आम बीमारी हो गई जो हर एक व्यक्ति को है। इसके कईं अन्य कारण भी हो सकते हैं साथ ही इसका एक प्रमुख लक्षण यह भी है कि अगर आपको बार-बार प्यास लगती है तो हो सकता है कि आपको डायबिटीज का खतरा हो।
दरअसल डायबिटीज में खून में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है जिसके कराण आपकी किडनी साफ नहीं हो पाती है और शुगर यूरिन के साथ बाहर निकलता है, जिसके कारण शरीर में पानी की कमी हो जाती है। यही बार-बार प्यास लगने की वजह बनती है।
3. एंग्जायटी होना
बहुत से लोगों को इसका अर्थ और इसके लक्षण नहीं पता होते हैं। दरअसल अगर आपकी धड़कन बढ़ रही है, आपको बेचैनी हो रही है या फिर आपको घबराहट हो रही है तो आप एंग्जायटी हो सकती है। कईं बार तो स्थिती ऐसी हो जाती है कि व्यक्ति के मुंह भी सूखने जाता है जिसके कारण से उसे बार-बार प्यास लगती है।
क्या है उपाय?
1. एक बार में ज्यादा पानी न पीएं
2. आंवला पाउडर और शहद को मिक्स कर के खाएं
3. भिगी सौंफ को पीस कर भी खा सकते हैं
4. 1 चम्मच काली मिर्च पाउडर को 4 कप पानी में उबाल कर ठण्डा कर भी पी सकते हैं।

posted by -दीपिका पाठक