पूर्व मंत्री स्व. कैलाश यादव के पुण्य तिथि पर श्रंदांजलि सभा में रामगोविन्द चौधरी हुए शामिल

गाजीपुर। पूर्व पंचायती राज मंत्री कैलाश यादव की पांचवी पुण्यतिथि मंगलवार को लुटावन स्नातकोत्तर महाविद्यालय सकरा जैतपुरा में मनाई गई। इस अवसर पर लोगों ने पूर्व मंत्री के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहां कि स्व. कैलाश यादव गरीबों मजलूमों एवं किसानों नौजवानों के आवाज थे,वह जनप्रिय नेता थे। उनकी सोच बहुत बड़ी थी। जिले के विकास के लिए वह बहुत चिंतित रहते थे और उन्होंने जिले के विकास के लिए बहुत कुछ किया।उन्होंने कहां कि स्व. कैलाश यादव ने कभी भी जात-पात, धर्म का भेदभाव नहीं किया। हमेशा गरीबों और बेसहारों की मदद करते थे। वे जमीन से जुड़े नेता थे। हमेशा सच्चाई के पक्षधर थे।विशिष्ट अतिथि पूर्व मंत्री विधायक शैलेंद्र यादव ललई ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहां कि स्व. कैलाश यादव गरीबों के नेता थे। वह अपनी बात को बेबाकी से रखते थे। वे सभी को अपना खास मानते थे। पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को साथ लेकर चलने का काम करते थे। उन्होंने कभी भी जाति-धर्म की राजनीति नहीं की।वे साफ-सुथरी राजनीति की वजह से वह सबके प्रिय थे।बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं के मान सम्मान के लिए संघर्षरत रहते थे।उन्होंने कभी भी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। वह न्यायप्रिय नेता थे। हमें उनके जीवन और कार्यों से प्रेरणा लेनी चाहिए। श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में स्व. कैलाश यादव की पत्नी पूर्व विधायक किसमती देवी, पूर्व विधायक विजय कुमार, पूर्व विधायक पशुपति नाथ राय, पूर्व एमएलसी काशीनाथ यादव, पूर्व विधायक सिबगतुल्लाह अंसारी, पूर्व सांसद जगदीश कुशवाहा, पूर्व मंत्री जयकिशन साहू, विधायक प्रभुनारायन यादव, विधायक संग्राम यादव, पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह, काशीनाथ यादव, पूर्व सांसद रामकिशुन यादव, एमएलसी लाल बिहारी यादव, विधायक त्रिवेणी राम, जिला पंचायत सदस्य रमेश यादव,अरुण यादव उमा,जिलाध्यक्ष रामधारी यादव, कर्मचारी नेता  विवेक कुमार सिंह शम्मी, राजेश राय पप्पू, अरुण कुमार श्रीवास्तव, राजेश कुशवाहा सहित सैकड़ों लोग शामिल थे।अध्यक्षता-सुदर्शन यादव तथा संचालन राजेन्द्र यादव ने किया। अंत में पूर्व मंत्री स्व. कैलाश यादव के पुत्र जंगीपुर विधायक डा. विरेंद्र यादव ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।