सोनू सूद को अवैध निर्माण मामले में सुप्रीम कोर्ट से मिला न्याय, ट्विटर पर लिखा लंबा चौड़ा पोस्ट

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद पिछले कुछ समय से एक केस के चक्कर में फंसे हुए थे। लेकिन अब सोनू सूद को बड़ी राहत मिली है। आवासीय इमारत में अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी के नोटिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने वाले एक्टर सोनू सूद ने अपनी याचिका वापस ले ली है। जानकारी के मुताबिक, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया के तीन जजों वाली बेंच की मौजूदगी में आज सोनू सूद की याचिका पर सुनवाई की गई जिसके बाद एक्टर ने अपनी याचिका वापस ले ली। खबरों की मानें सोनू सूद ने बीएमसी के साथ बातचीत कर मामले का हल निकालने की पहल की है। एक्टर ने वकील ने कोर्ट में कहा कि वो अदालत के बाहर ही बीएमएसी के साथ बातचीत कर के इस मामले का हल निकल लेंगे। कोर्ट ने इस पर खुशी जताते हुए बीएमसी को आदेश दिया है कि कोर्ट के बाहर आपसी सहमति से मामला हल होने तक वो सूद के खिलाफ कोई कार्रवाई ना करें। अब इस मामले पर सोनू सूद ने एक ट्वीट भी किया। सोनू ने ट्वीट करते हुए कहा-न्याय होता है। सोनू ने अपने इस लम्बे- चौड़ा पोस्ट में लिखा है- माननीय सुप्रीम कोर्ट ने आखिरकार मुझे ताजा हवा में सांस लेने की अनुमति दी। काम हमेशा लीगल तरीके से किया गया, लेकिन इसे पेश गलत किया गया। मुझे हमारी न्याय व्यवस्था पूरा भरोसा है मैं हमेशा कानूने के दायरे में रहकर काम करता हूं। मैंने हमेशा बिजनेस भी सही तरीके से किया, हर उस तरीके की परमिशन ली और क्लियरेंस लिया जो कानूनी रूप से जरूरी है। दुर्भाग्य से, कुछ लोगों ने मेरी छवि खराब करने की कोशिश की। मैं उन लोगों से इस मामले से दूर करने का अनुराध करता हूं जो खुद को सोशल एक्टिविस्ट दिखाते हैं पर होते नहीं हैं। इसके बाद एक्टर ने अपनी सभी वकीलों को धन्यवाद दिया है जो लगातार उनके सपोर्ट में खड़े थे।