सहूलियतों में जीना है तो काइदे ही काइदे


सहूलियतों में जीना है तो काइदे ही काइदे
दुश्वारियों में जीने के हैं फाइदे ही फाइदे

हक़ो हुक़ूक़ वास्ते फक़त हिम्मतो मेहनत दरकार
ख़ैरात चाहिए तो मिलेंगे वाइदे ही वाइदे

रोटियों को चोकरों से सेहतमंद होने दीजिए
खाकर बीमार होंगे वरना माइदे ही माइदे

छोड़ मकानों की फ़िकर लो नींदों की ख़बर यारो
हैं यहां घर कम, तैनात मगर राइदे ही राइदे

यूँ तो भूख दिखती है महज़ चन्द निवालों की मुंतज़िर
जाने फिर ये दिल मांगता क्यों जाइदे ही जाइदे

सहूलियतों-- सुविधाओं, काइदा-- नियम,
दुश्वारियां- कठिनाइयां,हक़ो हुक़ूक़- सच्चा अधिकार
वास्ता- संदर्भ, फक़त-- केवल, दरकार- आवश्यकता
ख़ैरात- बिना किसी मेहनत के मुफ्त में,वइदे-वादे
माइद- भीतर का गुदा,मैदा,फिक़र- चिंता
राइदे- गृह प्रबंधक, मुंतजीर- आशावान
निवाला- भोजन का टुकड़ा,जाइद- ज्यादा

डॉ एम डी सिंह