छोटा बेर है बड़ी दवा, इन परेशानियों से दिलाएगा छुटकारा

बसंत के मौसम में टेस्टी व सेहत से भरपूर फलों की बरमार होती है। इनमें से ही एक है बेर। खाने में खट्टे-मीठे स्वाद का बेर विटामिन ए, बी, सी, कैल्शियम, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, वसा, आयरन, कॉपर, सोडियम, जिंक व एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। इसके सेवन से इम्यूनिटी स्ट्रांग होने के साथ दिल और दिमाग स्वस्थ रहता है। इसके अलावा आयुर्वेद के अनुसार, इसके सेवन से शरीर में कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से लड़ने की शक्ति बढ़ती है। इसतरह दिखने में छोटा सा बेर किसी दवा से कम नहीं कहा जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इसके सेवन से मिलने वाले अनगिनत फायदों के बारे में...
दिल रहेगा स्वस्थ
पोषक तत्वों से भरपूर बेर दिल को स्वस्थ रखने के साथ इससे जुड़ी परेशानियों को कम करता है। यह धमियों में जमा वसा कम करके दिल को सही तरीके से काम करने में मदद करता है। ऐसे में हार्ट अटैक आने व दिल से संबंधित बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है।
अल्जाइमर का खतरा करे कम
एक शोध के अनुसार, अल्जाइमर का इलाज करने में बेर काफी फायदेमंद होता है। इसके सेवन से दिमाग की कोशिकाओं को पोषण मिलने से बेहतर स्मरण शक्ति बढ़ने में मदद मिलती है। ऐसे में अल्जाइमर, फल डिमेंशिया, न्यूरोडीजेनेरेटिव डिसऑर्डर से पीड़ित लोगों को इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।
कैंसर से बचाव
बेर में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट गुण कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की चपेट में आने का खतरा कम करता है।
ब्लड प्रेशर रहेगा कंट्रोल
इसमें पोटैशियम, मैंगनीज, फास्फोरस आदि पोषक तत्व होने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है। साथ ही शरीर के सभी अंगों को सही से ऑक्सीजन मिलता है। ऐसे में इससे परेशान लोगों को इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।
पाचन करे दुरुस्त
फाइबर व कार्बोहाइड्रेट से भरपूर बेर मेटाबॉलिज्म को तेज करके पाचन को दुरुस्त करता है। ऐसे में पेट दर्द, एसिडिटी, कब्ज आदि की समस्या से राहत मिलती है।
अच्छी नींद दिलाए
बेर अनिद्रा की समस्या दूर करने में फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व दिमाग को शांत करके अच्छी व गहरी नींद दिलाने में मदद करते हैं।
नोट- अगर आप पहले से अनिद्रा की दवा खा रहे हैं तो बेर का सेवन ना करें।
खून बढ़ाए
एनीमिया के मरीजों को इसका सेवन करने से खून की कमी पूरी करने में मदद मिलती है। साथ ही थकान, कमजोरी दूर होकर दिनभर एनर्जेटिक महसूस होता है।
मजबूत इम्यूनिटी
एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल आदि गुणों से भरपूर बेर इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। ऐसे में मौसमी बीमारियों की चपेट में आने का खतरा कम रहता है।
मजबूत हड्डियां
इसमें पोषक व एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होने से मांसपेशियों व हड्डियों को मजबूती मिलती है। यह हड्डियों की कार्यक्षमता व लचीलापन बढ़ाने में मदद करता है। ऐसे में जोड़ों व हड्डियों से जुड़ी अन्य समस्याओं से बचाव रहता है। ऐसे में हर उम्र के लोगों को इसे अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए।
बेर खाने के नुकसान-
आयुर्वेध के अनुसार, अधिक मात्रा में बेर का सेवन करने से दस्त, भूख कम लगना, कब्ज आदि की समस्या भी हो सकती है। वैसे तो इसका सेवन करने से अधिक नुकसान नहीं होता है। मगर फिर भी इन लोगों को इसका सेवन करने से बचना चाहिए।
- लो फाइबर डाइट फॉलो करने वाले
- डायबिटीज के मरीज
- पेट में गैस व सूजन की शिकायत होने पर

posted by -दीपिका पाठक