बैंक कर्मी बन रुपये हड़पने वाले दो साइबर अपराधी गिरफ्तार

फर्रुखाबाद। ग्रामीणों से बैंक कर्मी बन ठगी करने वाले दो साइबर अपराधियों को गिरफ्तार कर पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। जबकि एक आरोपी फरार है। थाना क्षेत्र के ग्राम अहिलामई निवासी होरीलाल कुशवाह नें मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमे कहा था कि खाते में पीएम मोदी के नाम से भेजे गये पैसे को चेक करने के चलते तीन अज्ञात आरोपियों ने लाखों रूपये निकाल लिये। आरोपियों नें मडैया निवासी सुरेश पाण्डेय के 27 हजार व शिकायत कर्ता होरीलाल के 72495 रूपये व खंडौली निवासी सोनू पुत्र रामबरन के खाते से 14 हजार रूपये निकाल लिये। पुलिस नें आरोपियों के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468, 471 व आईटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा के निर्देश पर स्वाट टीम व थाना पुलिस आरोपियों की मुखबिर की सूचना पर थानाध्यक्ष देवेन्द्र गंगवार व अमृतपुर थानाध्यक्ष जिसके साथ जसबंत सिंह व स्वाट टीम जयप्रकाश शर्मा आदि नें चाचूपुर तिराहे से सलेमपुर जाने वाले मार्ग पर दो आरोपियों की गिरफ्तारी की। पुलिस नें पकड़े गये आरोपी जनपद कन्नौज के मोहम्मद सराहशाह निवासी प्रभाकर पुत्र वीरेंद्र प्रसाद कुशवाह व जनपद कन्नौज के प्रेम नगर करीमपुर निवासी दीपू पुत्र राज कुमार यादव पड़ताल की। पुलिस नें अपाचे सबार दोनों आरोपियों के पास से लैपटॉप व चार्जर, अपाचे बाइक, 5 मोबाइल, 46 विभिन्य कम्पनियों के सिमकार्ड बरामद किये। इसके साथ ही विभिन्य बैंको की मोहरें, फिंगरप्रिंट मशीन, चार आर्यावर्त ग्रामीण बैंक की पास छायाप्रति, चार ग्रामीण बैंक आफ इंडिया की पास बुकों की छायाप्रति, 10 आधार कार्ड की छायाप्रति, दो पैन कार्ड, दोनों आरोपियों से 5250 की नकदी बरामद कर ली। पकड़े गये आरोपी प्रभाकर व दीपू नें पुलिस को बताया कि दोनों आरोपियों के साथ ही तीसरा उनका फरार साथी नीलेश उर्फ शिवा यादव निवासी करीमपुर प्रेम नगर कन्नौज के साथ ग्रामीणों को बताते थे की वह बैंक से हैं। उन्हें भरोसे में लेकर किसान सम्मान निधि का पैसा चेक करने के बहाने बैक पास बुक व आधार कार्ड की कापी हासिल करते थे। इसके साथ ही फिंगरप्रिंट मशीन से ग्रामीण की ऊँगली लगवाकर पैसे अपने खाते में ट्रांसफर कर लेते थे। उन्होंने पुलिस को बताया कि ग्रामीणों के 1,14,495 रूपये अपने खातों में ट्रांसफर किये थे।