जिलाधिकारी और पुलिस कमिश्नर ने कोरोना का टीका लगवाया


लखनऊ। स्वास्थ्य कर्मियों के टीकाकरण के आखिरी दिन ही दूसरे चरण में फ्रंटलाइन वर्करों के टीकाकरण का भी आगाज हो गया। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश और पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने शुक्रवार को सबसे पहले खुद को टीका लगवा कर फ्रंटलाइन वर्करों के लिए दूसरे चरण के वैक्सीनेशन की शुरुआत कराई। डीएम के साथ कलेक्ट्रेट में 14 से ज्यादा सीनियर पीसीएस अधिकारियों ने भी टीका लगवाया। कलेक्ट्रेट के अन्य अधिकारी, कर्मचारी और राजस्व कर्मियों को भी टीका लगवाया जा रहा है। लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर, संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था नवीन अरोड़ा व संयुक्त पुलिस आयुक्त नीलाब्जा चौधरी ने भी शुक्रवार को संजय गांधी पीजीआइ में वैक्सीन लगवाई। इसके साथ ही अन्य पुलिसकर्मियों का भी टीकाकरण शुरू हो गया। पहले दिन 2625 फ्रंटलाइन वर्करों को टीका लगाने का है लक्ष्यरू फ्रंटलाइन वर्करों के लिए शुरू हुए दूसरे चरण के पहले दिन शुक्रवार को 2625 फ्रंटलाइन वर्करों का टीकाकरण किए जाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए बिजनौर में 8 बूथ, कलेक्ट्रेट में 2 बूथ, बीआरडी अस्पताल में दो बूथ, अलीगंज व आलमबाग सीएचसी में दो-दो बूथ एवं नॉर्दर्न रेलवे में दो बूथ समेत कुल 21 बूथ बनाए गए हैं। स्वास्थ्य कर्मियों के टीके का आखिरी दिनरू स्वास्थ्य कर्मियों के टीके का शुक्रवार को आखिरी दिन है। इसके लिए 22 अस्पतालों में कुल 55 बूथ बनाए गए हैं। आखरी दिन 6875 स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड-19 वैक्सीन दी जानी है। पहले दिन 16 जनवरी को प्रथम चरण के टीकाकरण का आगाज हुआ था। अब 16 जनवरी को टीका लगवा चुके स्वास्थ्य कर्मियों को 15 फरवरी को दूसरी डोज दी जाएगी। इसी तरह उसके बाद अलग-अलग तारीखों पर पहली डोज लगवा चुके अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को भी पहली डोज लगवाने के 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी।