शिक्षकों की पदोन्नति व वार्षिक वेतन वृद्धि में गोपनीय आख्या लागू करना तुगलकी फरमान -विनय तिवारी


गोण्डा। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ ने शिक्षकों की पदोन्नति और वार्षिक वेतन वृद्धि में गोपनीय आख्या लागू करने को तुगलकी फरमान बताते हुए इसे निरस्त करने की मांग की है। जिलाध्यक्ष विनय तिवारी ने गोपनीय प्रविष्ट को काले कानून की संज्ञा देते हुए कहा कि इसके वापसी तक आन्दोलन जारी रहेगा। इसके अतिरिक्त शिक्षकों की अन्य समस्यायों के समाधान के लिए एक अन्य मांग पत्र भी मुख्यमंत्री जी को प्रेषित किया गया जिसमें पुरानी पेंशन बहाली, 17140,पदोन्नति आदेश जारी किए जाने,जिले के अंदर तबादला  सहित विभिन्न समस्यायों का समाधान कराये जाने की मांग शामिल हैं। इस अवसर पर पदाधिकारियों ने खण्ड शिक्षा अधिकारी रुपईडीह को हटाकर उनके कार्यकलापों के जांच की मांग की गई।इस अवसर पर सैकड़ो शिक्षक और पदाधिकारी मौजूद रहे।