विराट की गैरमौजूदगी में टीम इंडिया की जीत पर बोले केन विलियमसन


इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के पहले सीजन के फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम न्यूजीलैंड है। ऑस्ट्रेलिया ने जैसे ही अपने दक्षिण अफ्रीकी दौरे को स्थगित किया, न्यूजीलैंड का आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना तय हो गया। वहीं दूसरी टीम भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में से कोई हो सकती है। हाल में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पर चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से हराया। इसके लिए कीवी कप्तान केन विलियमसन ने टीम इंडिया की जमकर तारीफ की है।

बॉर्डर-गावस्कर सीरीज के पहले टेस्ट मैच में एडिलेड में टीम इंडिया दूसरी पारी में महज 36 रन बना सकी थी, जो टेस्ट क्रिकेट में उनका लोएस्ट स्कोर भी है। एडिलेड टेस्ट में भारतीय टीम आठ विकेट से हारी, इस मैच के बाद कप्तान विराट कोहली पैटरनिटी लीव पर स्वदेश लौट गए, कुछ प्रमुख खिलाड़ी चोट के चलते लगातार सीरीज से बाहर होते रहे, इन सभी विपरीत परिस्थितियों के बावजूद टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया। विलियमसन ने स्पोर्ट्स टुडे से कहा, 'ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलना हमेशा मुश्किल होता है और उसकी सरजमीं पर तो यह चैलेंजिंग बन जाता है। भारत ने कई खिलाड़ियों के चोटिल होने के बावजूद जिस तरह से जीत दर्ज की वह वास्तव में उल्लेखनीय जीत है।'

उन्होंने कहा, 'आप टेस्ट चैंपियनशिप के बारे में बात करेंगे लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से उन्होंने चुनौती का डटकर सामना किया वह सराहनीय है। गाबा में आखिरी टेस्ट मैच में उनके गेंदबाजों के पास कुल मिलाकर सात या आठ टेस्ट मैच का अनुभव था।' टीम इंडिया के आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में खेलने की उम्मीद फिलहाल सबसे ज्यादा है। भारत और इंग्लैंड के बीच 5 फरवरी से चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जानी है, जिसका नतीजा तय करेगा कि आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड के सामने किसकी चुनौती होगी।