विधानसभा मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य की डीएम ने की समीक्षा

बहराइच । विधानसभा निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण कार्य की समीक्षा हेतु सोमवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी शम्भु कुमार की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई। जिलाधिकारी ने विधानसभा क्षेत्रवार पुनरीक्षण कार्य की प्रगति की समीक्षा करते हुए पुनरीक्षण कार्य के शिथिल पर्यवेक्षण का दोषी पाये जाने पर उप जिलाधिकारी महसी, खण्ड शिक्षा अधिकारी मिहींपुरवा, पयागपुर व महसी का स्पष्टीकरण प्राप्त कर वेतन रोकने का आदेश दिया। जबकि बी.आर.सी. महसी के विरूद्ध कार्रवाई किये जाने के निर्देश दिये। 

जिलाधिकारी श्री कुमार ने यह भी निर्देश दिया कि पुनरीक्षण कार्य में अपने उत्तरदायित्वों का निवर्हन भली प्रकार से न करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों को चिन्हित कर उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाय। श्री कुमार ने निर्देश दिया कि मतदाता पुनरीक्षण कार्य की महत्ता को दृष्टिगत रखते हुए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों के अन्तर्गत समयसारिणी के अनुसार पुनरीक्षण कार्य की कार्यवाही पूर्ण की जाय। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि खण्ड शिक्षा अधिकारी व बाल विकास परियोजना अधिकारी सम्बन्धित उप जिलाधिकारियों से समन्वय कर बूथ लेबिल अधिकारियों के कार्यो का सफल पर्यवेक्षण करते हुए शिथिल व लापरवाह कर्मचारियों के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित करायें।
इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी शोभाराम वर्मा, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ गंगवार आई.ए.एस., नानपारा के सूरज पटेल आई.ए.एस., कैसरगंज के महेश कुमार कैथल, महसी के एस.एन. त्रिपाठी, पयागपुर के कीर्ति प्रकाश भारती, मिहींपुरवा (मोतीपुर) के ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी बृजेश कुमार राय, बी.डी.ओ., बी.ई.ओ., सी.डी.पी.ओ. व अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।