दीवार पर थूकने वालों से जुर्माना वसूलने के निर्देश


उरई/जालौन। नवागंतुक जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने तहसील का मुआयना किया। भू अभिलेखाकार का फीता काटकर शुभारंभ किया। दीवार पर थूकने पर नाराजगी जताते हुए एसडीएम को ऐसे लोगों से जुर्माना वसूलने के निर्देश दिए। डीएम ने सोमवार की दोपहर तहसील पहुंचकर एसडीएम कार्यालय का मुआयना किया। पहले ही निरीक्षण में डीएम ने तेवर दिखाए। उन्होंने बकायेदारों के लिए बने अधूरे बंदीगृह को पूरा कराने के निर्देश दिए। साथ ही तहसील की बाउंड्रीवाल बनवाने की बात कही। तहसील रोड की जगह पर दुकानें बनवाने के लिए तहसीलदार से कहा। तहसील में अधिवक्ताओं के लिए पक्के बने चैंबर की साफ-सफाई करवाने को कहा। डीएम ने तहसीलदार प्रेमनारायण प्रजापति से घरौनी के बारे में जानकारी चाही। तहसीलदार ने वताया कि तहसील क्षेत्र के अंतर्गत 256 गांव आते हैं। इसमें मात्र 17 गांव की घरौनी रह गई है। पांच दिन में घरौनी का कार्य पूरा करा दिया जाएगा। डीएम ने एसडीएम से कहा कि शासन की योजनाओं का लाभ पात्र लोगों को मिलें। साथ ही पंचायत चुनाव के मद्देनजर बूथों का निरीक्षण करें, शौचालय, पानी, बिजली की भी व्यवस्था देखें। इस दौरान एडीएम प्रमिल कुमार सिंह, एसडीएम सालिकराम, सीओ वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव, बीडीओ माधौगढ़ दीपक कुमार, बीडीओ रामपुरा ओमप्रकाश द्विवेदी, बीडीओ कुठौंद संदीप कुमार, नगर पचांयत अध्यक्ष राजकिशोर गुप्ता आदि रहे। उधर, जनपद का कार्यभार ग्रहण करने के बाद डीएम प्रियंका निरंजन ने नगर पंचायत रामपुरा व कान्हा गोशाला का निरीक्षण किया और गोवंश के नियमित चिकित्सीय परीक्षण कराने के निर्देश दिए।