महंगाई की राष्ट्रीय समस्या को क्या दूर कर पाएगा आम बजट: मायावती


लखनऊ। कोरोना काल में पहले आम बजट 2021 को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जैसे ही संसद में पेश किया तो विपक्षियों की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई। एक ओर अखिलेश यादव ने बजट पेश होने से पहले केन्द्र सरकार से अपील का एक ट्वीट किया तो वहीं मायावती बजट को लेकर केन्द्र सरकार से ट्वीट के जरिए कई सवाल किए। बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को बजट पेश होने के बाद ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा कि संसद में आज पेश केन्द्र सरकार का बजट पहले मंदी और वर्तमान में कोरोना प्रकोप से पीड़ित देश की बिगड़ी अर्थव्यवस्था को संभालने तथा यहां की अति-गरीबी, बेरोजगारी और महंगाई आदि की राष्ट्रीय समस्या को क्या दूर कर पाएगा, इन्हीं आधार पर सरकार के कार्यकलापों और इस बजट को भी आंका जाएगा। मायावती ने दूसरे ट्वीट में लिखा कि देश के करोड़ों गरीब, किसान और मेहनतकश जनता केन्द्र व राज्य सरकारों के अनेकों प्रकार के लुभावने वायदे, खोकले दावे और आश्वासनों आदि से काफी थक चुकी है तथा उनका जीवन लगातार त्रस्त है। सरकार अपने वायदों को जमीन हकीकत में लागू करे तो यह बेहतर होगा।