क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बताया क्यों रद्द करना पड़ा दक्षिण अफ्रीका दौरा


क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक हॉकली ने कहा कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए वहां का दौरा स्थगित करने का फैसला करने से पहले सभी संभव विकल्पों पर विचार किया जिनमें सीरीज की मेजबानी करने की पेशकश भी शामिल थी। सीए ने मंगलवार को कहा था कि उसे दक्षिण अफ्रीका में महामारी के कारण स्वास्थ्य और सुरक्षा जोखिमों को देखते हुए अगले महीने के दौरे को स्थगित करने के लिए मजबूर होना पड़ा। इससे वह इस साल के आखिर में होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल से भी लगभग बाहर हो गया है।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने दौरा स्थगित होने पर बेहद निराशा व्यक्त की थी जिसके बाद हॉकली को स्पष्टीकरण देना पड़ा। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के अनुसार हॉकली ने कहा कि हमने सीरीज की मेजबानी करने की पेशकश की थी लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने स्पष्ट कर दिया कि उसकी अन्य प्रतिबद्धताएं हैं और इसके अलावा क्वारंटाइन का मसला है जिससे यह संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि हम अगले सप्ताहों और महीनों में इस पर काम करेंगे ताकि हम सीरीज का फिर से कार्यक्रम तय कर सकें। हमने मेजबानी का औपचारिक प्रस्ताव रखा था लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने अपनी स्थिति स्पष्ट कर दी थी और हम उसका सम्मान करते हैं।

हॉकली ने कहा कि वह दौरा स्थगित होने के परिणामों से अवगत थे लेकिन खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ के सर्वश्रेष्ठ हित में यह फैसला किया गया। उन्होंने कहा कि हम सभी नियमों के बारे में जानते थे और यही कारण था कि यह फैसला करना बेहद मुश्किल रहा। हमने दौरा जारी रखने के लिए हर संभव प्रयास किए लेकिन आखिर में हमने चिकित्सा दल की सलाह मानी। हॉकली ने कहा कि हमने खिलाड़ियों के संघ से लंबी बातचीत की। मैंने कोच से बात की। खिलाड़ी वास्तव में निराश हैं। वे क्रिकेट खेलना चाहते हैं। वे विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में खेलना चाहते हैं। वे टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं। वे भारत के खिलाफ हाल की सीरीज के बाद फिर से मैदान पर उतरना चाहते हैं।