हरिद्वार स्थित कंट्रोल रूम का मण्डलायुक्त और पुलिस उप महानिरीक्षक ने किया औचक निरीक्षण


कंट्रोल रूम के 7351506180 और 9389793202 चौबीस घंटे काम करेंगे

सहारनपुर। मण्डलायुक्त ए0वी0राजमौलि ने उत्तराखण्ड राज्य के चमोली में ग्लेशियर टूट जाने से हुई तबाही में उत्तर प्रदेश के अनेकों लोगों के हताहत, लापता और फंसे होने की सूचनाओं को एकत्रित करने तथा परिवारों से समन्वय के लिए हरिद्वार में उत्तर प्रदेश राज्य के भीमगोडा बैराज पर स्थित गेस्ट हाऊस में स्थित कंट्रोल रूम का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने कंट्रोल रूम को 24 घंटे संचालन के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हर घटना की जानकारी सम्बधिंत को तत्काल उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कंट्रोल रूम में कायर्रत कर्मी बिना अनुमति के अपने कार्य से अवकाश पर नहीं जायेंगे। उन्होंने कंट्रोल रूम के मोबाइल नम्बर 7351506180 और 9389793202 का व्यापक प्रचार-प्रसार कराने के भी निर्देश दिए।

ए0वी0राजमौलि ने कंट्रोल रूम के निरीक्षण के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में आई आपदा से उत्तर प्रदेश के लापता और मृत व्यक्तियों के सम्बन्ध में रजिस्ट्रर बनायें। उनके सम्बन्ध में हर सूचना को अंकित कर तत्काल लखनऊ स्थित राहत आयुक्त कार्यालय को भी अवगत कराया जाए। उन्होंने कहा कि हर छोटी से छोटी सूचनाओं का तत्र्परता से आदान-प्रदान करें। उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम 24 घंटे संचालित किया जाए। कंट्रोल रूम पर आने वाले फोन को तत्काल अटैण्ड किया जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी कर्मी द्वारा मानवीय दृष्टिकोण अपना कर पीड़ित परिवारों को सूचनाएं उपलब्ध कराई जाए। कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। कंट्रोल रूम के संचालन के लिए अधिकारियों, कर्मचारियों की ड्यूटी तत्काल प्रभाव से लगाई गई है। मण्डलायुक्त ने कहा कि उत्तर प्रदेश के निवासियों के सम्बन्ध में उत्तराखण्ड़ राज्य से कोई भी सूचना लापता, हताहत और मृत व्यक्तियों के सम्बन्ध में मिलती है। सूचना को सम्बधिंत जनपदों के कंट्रोल रूम को भी उपलब्ध कराई जाए। इस अवसर पर पुलिस उप महानिरीक्षक श्री उपेन्द्र अग्रवाल भी मौजूद थे।