मुरैना जिले में कोविड-19 का कोई भी सक्रिय मरीज नहीं


भोपाल: मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बुधवार को दावा किया है कि मुरैना जिले में पिछले सात दिनों में कोई भी व्यक्ति कोविड-19 संक्रमित नहीं पाया गया है और यह प्रदेश का पहला जिला बन गया है, जहां इस महामारी का कोई भी उपचाररत मरीज नहीं है. उन्होंने कहा कि यह उपलब्धि इसलिए हासिल की जा सकी, क्योंकि जिले में संक्रमित मरीजों की उचित निगरानी की गई और उनके संपर्क में आए लोगों की सूची बनाकर पता लगाया गया. मुरैना के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी आर सी बांदिल ने बताया, ‘‘मुरैना जिले में अब एक भी कोरोना वायरस का उपचाररत मरीज नहीं है.''

उन्होंने कहा, ‘‘हमने कोविड-19 के मरीजों की निरंतर निगरानी के साथ-साथ उन्हें पृथक वास में रखा. इसके अलावा, हमने इन लोगों के संपर्क में आये लोगों का भी पता लगाया और उनके नमूनों की भी जांच की. इससे सोमवार से मुरैना जिले मेंकोविड-19 का कोई भी उपचाररत मरीज नहीं हैं.'' वहीं, मध्यप्रदेश स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिनों के अनुसार पिछले सात दिनों से (27 जनवरी से 2 फरवरी तक) मुरैना जिले में कोई भी कोविड-19 का नया मामला सामने नहीं आया है.

राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार मध्यप्रदेश के 52 जिलों में से 31 जिलों ने मंगलवार शाम को 20 से कम कोरोना वायरस के उपचाररत मामले रह गये हैं. उन्होंने कहा कि इन 31 जिलों में 12 जिलों में 10 से कम उपचाररत मामले हैं, जबकि चार जिलों में पांच से कम उपचाररत मामले रह गए हैं. मध्यप्रदेश में अब तक कुल 2,55,431 लोग कोरोना वायरस संक्रमित पाये गये हैं, जिनमें से 3,815 लोगों की मौत हो चुकी है, 2,49,193 मरीज स्वस्थ हो गये हैं और 2,423 मरीज़ों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है.