किसान आंदोलन के समर्थन में आइपीएफ कार्यकर्ताओं ने किया उपवास


लखनऊ। संयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर आज किसानों के समर्थनमें आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट, जय किसान आंदोलन से जुड़े मजदूर किसान मंच, वर्कर्स फ्रंट और युवा मंच के कार्यकर्ताओं ने गांधी जी के शहादत दिवस के अवसर पर सद्भावना उपवास रखा। उपवास के बारे में जानकारी देते हुएआज प्रेस को जारी बयान में आइपीएफ के राष्ट्रीय प्रवक्ता एस. आर. दारापुरी वमजदूर किसान मंच के महासचिव डा. बृज बिहारी ने बताया कि आज गांव-गांवकार्यकताओं ने आरएसएस-भाजपा सरकार द्वारा किसानों की हो रही घेराबंदी वकिसान आंदोलन के दमन, हमले व दुष्प्रचार करने की कड़ी आलोचना करते हुए सरकारसे तत्काल तीनों काले कृषि कानूनों को वापस लेने और न्यूनतम समर्थन मूल्यपर कानून बनाने व किसानों की उपज की खरीद व भुगतान और किसान आंदोलन केनेताओं पर लगाए सभी मुकदमें वापस लेने की पुरजोर मांग की। कार्यकर्ताओं ने कहा कि देशी विदेशी कारपोरेट घरानों की गुलामी में लगीमोदी सरकार देश के किसानों और आम नागरिकों को तबाह करने वाले कृषि कानूनोंको लागू करने के लिए इतनी बेकरार है कि वह देश में गृह युद्ध तक कराने परआमादा है। दरअसल सरकार और आरएसएस की किसान आंदोलन को बदनाम करके उसका दमनकरने की तमाम कोशिशों के बावजूद देशभर में किसान आंदोलन को व्यापक समर्थनमिल रहा है और लोग सरकारी हथकंडों के बारे में भी सचेत हो रहे हैं। यही कारणहै कि सरकार के हर स्तर पर बौखलाहट है। लेकिन आरएसएस व सरकार की तमामकोशिशों के बावजूद यह आंदोलन सफल होगा और लोकतांत्रिक, विकसित और आधुनिकभारत निर्माण की नई इबारत लिखेगा। आज बिहार के सीवान में पूर्वविधायक व आइपीएफ के प्रदेश प्रवक्ता रमेश सिंह कुशवाहा के नेतृत्व में मानवश्रृंखला बनाई गई और उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एआईपीएफ के प्रदेश अध्यक्ष डा. बी. आर. गौतम, सीतापुर में मजदूर किसान मंच नेता सुनीला रावत, युवा मंच के नागेश गौतम, अभिलाष गौतम, लखनऊ में वर्कर्स फ्रंट अध्यक्ष उपाध्यक्ष उमाकांत श्रीवास्तव, एडवोकेट कमलेश सिंह, वाराणसी में प्रदेशउपाध्यक्ष योगीराज पटेल, सोनभद्र में प्रदेश उपाध्यक्ष कांता कोल, कृपाशंकरपनिका, मंगरू प्रसाद गोंड़, ज्ञानदास गोंड़, सूरज कोल, श्रीकांत सिंह, रामदास गोंड़, शिव प्रसाद गोंड़, महावीर गोंड, आगरा में वर्कर्स फ्रंटउपाध्यक्ष ई. दुर्गा प्रसाद, चंदौली में अजय राय, आलोक राजभर, रामेश्वरप्रसाद, इलाहाबाद में युवा मंच संयोजक राजेश सचान, इंजीनियर राम बहादुरपटेल, मऊ में बुनकर वाहनी के इकबाल अहमद अंसारी, बलिया में मास्टर कन्हैयाप्रसाद, बस्ती में एडवोकेट राजनारायण मिश्र, श्याम मनोहर जायसवाल, गोण्डामें साबिर अजीजी, आरिफ के नेतृत्व में कार्यक्रम किए गए।