चिकोटी


खुली सड़क पर झूमकर,

बोल रहा है बेंत।

राजा ही सर्वस्य है,

लोकतंत्र है रेत।

करो उपयोग सुखाकर।

करो उपयोग भिगा कर।

धीरु भाई