चिकोटी


आवंटन भुगतान तक,

सब सर हिस्सेदार।

लेकिन होगी मौत तो, 

दोषी ठेकेदार।

और सब दूध धुले हैं।

सत्य के फूल खिले हैं।

धीरु भाई