बिना कब्जा आदेश का अवैध रूप से किसानों की जमीन पर एनएचआई एवं जेपी कंस्ट्रक्शन के अधिकारी द्वारा कराया जा रहा है काम


मऊ जनपद के कोपागंज ब्लॉक के ग्रामपंचायत शहरोज रेवरीडीह,भदसामानव पुर आदि गांवों में एनएचआई द्वारा किये जा रहे फोरलेन निर्माण के तहत ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि गाटा संख्या, 272,278,  277 मि , के अंतर्गत पड़ने वाले ट्यूबवेल, व परिसंपत्तियों को जेपी कांट्रैक्टसन के ठेकेदार एवम एनएचआई के अधिकारियों के द्वारा तोड़ फोड़ के साथ जबर्दस्ती हटा दिया गया साथ ही जमीन पर अवैध कब्जा कर निर्माण कार्य कराया जा रहा है।उक्त जमीन का न तो भुगतान हुआ और न भुगतान की प्रक्रिया चालू हुई। ग्रामीणों ने केंद्रीय सड़क एवम परिवहन मंत्री,मुख्यमंत्री, एवम परियोजना निदेश को पत्र भेजकर उक्त लोगो के विरुद्ध जांच कराकर कानूनी एवम दंडात्मक कार्यवाही की मांग किया है।

   क्षेत्र के ग्रामपंचायत सहरोज निवासी शिवकुमार, प्रेमकुमार व गिरजा तिवारी, राजेंद्र राय आदि ने केंद्रीय सड़क एवम परिवहन मंत्री,सूबे के मुख्यमंत्री,एवम परियोजना निदेशक ,मुख्य राजस्व अधिकारी मऊ को लीखित पत्र देते हुए आरोप लगाया है कि जेपी  कांट्रैक्टसन के ठेकेदार, एवम एनएचआई के अधिकारियों द्वारा बिना सूचना के जबर्दस्ती मेरे ट्यूबवेल, व परिसंपत्तियों  को तोड़ दिया गया।जिसका गाटा संख्या 270, 272, 277,278 है जिसका न तो भुगतान हुआ और न तो भुगतान की प्रक्रिया चालू हुई। और तो और हमलोगो के साथ अन्य ग्रामीणों की जमीन पर जबर्दस्ती कब्जा कर निर्माण कार्य कराया जा रहा है।कहा कि क्या बिना भुगतान किए जबर्दस्ती हम गरीब किसानों की भूमि अधिग्रहित की जाएगी।
आप को बता दे कि मौजा शहरोज के प्रथम 3 D में एक भी किसानों का मुआवजा अभी तक नहीं दिया गया है  जब किसानों का भुगतान ही नहीं किया गया तो उस जमीन पर काम करने के लिए किस सक्षम अधिकारी द्वारा उस जमीन पर काम करने का आदेश दिया गया जबकि एक्ट में भुगतान करने के बाद भी कब्जा देने का आदेश दिया जाता है सभी सभी किसानों ने मांग किया है कि ठेकेदार एवम एनएचआई के अधिकारीयों के खिलाफ कानूनी एवम दंडात्मक कार्यवाही किया जाय।सभी ने कहा कि अगर जल्द सुनवाई नही हुई तो हम सभी  लोग कार्य  को रोक कर प्रदर्शन करने को बाध्य हो जाएंगे।