मुख्यमंत्री ने प्रदेश में रैन बसेरों का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शीतलहर के दृष्टिगत प्रदेश में रैन बसेरों का सुचारु संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि शहरी व ग्रामीण इलाकों में सभी प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर अलाव जलाने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने जरूरतमंदों को कम्बल वितरित करने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने सर्दी के मौसम में कोहरे आदि के दृष्टिगत सड़क सुरक्षा के नियमों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी, पुलिस कमिश्नर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक,पुलिस अधीक्षक अपने जनपद के दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों में सुरक्षित आवागमन के लिए सभी जरुरी प्रबन्ध सुनिश्चित करें। मुख्यमंत्री ने एम0एस0पी0 के अन्तर्गत धान खरीद कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि किसानों को उनकी उपज का 72 घण्टे के अन्दर भुगतान सुनिश्चित कराना राज्य सरकार की प्राथमिकता है। इसे ध्यान में रखते हुए समस्त धान क्रय केन्द्र समय से भुगतान करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए राज्य सरकार द्वारा अभ्युदय योजना के संचालन का निर्णय लिया गया है। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए छात्र-छात्राओं को इस योजना के माध्यम से निःशुल्क कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने अभ्युदय योजना के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सभी व्यवस्थाएं तेजी से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, सचिव मुख्य मंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।