सर्दियों में नहीं होगा डिप्रेशन अगर डाइट में शामिल कर लेंगे ये सुपरफूड, तुरंत कर देंगे मूड फ्रेश


सर्दी का मौसम अपने साथ सेहत से जुड़ी कई समस्याएं लेकर आता है, जिसमें से एक विंटर ब्लूज या विंटर डिप्रेशन भी है। ठंड की उदासी यानी विंटर ब्लूज के कारण लोगों में निराशा, अकेलापन, चिड़चिड़ापन, कमजोरी और नकारात्मक जैसी भावनाएं आ जाती है। अक्सर लोग इसे मामूली समझ इग्नोर कर देते हैं लेकिन यह डिप्रेशन और एंग्जायटी का रूप भी ले सकती हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ सुपरफूड्स के बारे में बताएंगे, जिनका सर्दियों में सेवन आपको इस समस्या से बचा सकता है।

क्या है विंटर ब्लूज की समस्या?
कुछ लोगों को शिकायत होती है कि उन्हें सर्दी के मौसम में तनाव और उदासीनता रहती है, जिसे विंटर ब्लूज या डिप्रेशन कहा जाता है। मौसम में बदलाव के साथ-साथ यह समस्या खुद ब खुद हो सकती है। यह सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर (एसएडी), अवसाद से जुड़ा एक विकार है, जिसके कारण आप मानसिक बीमारियों के घेरे में आ सकती हैं।
चलिए अब आपको बताते हैं कि इस समस्या से बचने के लिए आपको डाइट में कौन-से फूड्स लेने चाहिए...
एवोकेडो
एवोकेडो में मौजूद फाइबर, विटामिन-बी 6, बी 5, सी और ई मूड़ को बेहतर बनाते हैं। साथ ही यह न्यूरोट्रांसमीटर को सिंथेसाइज्ड और इडरनेल ग्लैंड्स को सपोर्ट करते हैं, जिसे खाने से मूड़ सही रहता है। इससे आप सर्दियों में होने वाले डिप्रेशन से बचे रहते हैं।
गुड़ की चिक्की
गुड़ की चिक्की में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है जो हार्मोन्स बैलेंस रखता है और एकाग्रता बढ़ाता है। साथ ही इससे दिल भी स्वस्थ रहता है।
सुखे मेवे
रोजाना मुट्ठीभर सुखे मेवे खाने से ना सिर्फ डिप्रेशन बल्कि कई हैल्थ प्रॉब्लम्स दूर रहती हैं। सर्दियों में इसका सेवन इसलिए भी फायदेमंद है क्योंकि इससे शरीर अंदर से गर्म रहता है।
तिल के लड्डू
लोहड़ी के मौके पर लोग खासतौर पर तिल के लड्डू बनाकर खाते हैं लेकिन यह एक नेचुरल एनर्जी बूस्टर भी है, जो डिप्रेशन से निजात दिलाता है। वहीं, इसकी तासीर गर्म होने के कारण सर्दियों में इसका सेवन और भी फायदेमंद है।
ब्लैक कॉफी
ब्लैक कॉफी दिमाग में हैप्पी हॉर्मोन्स रिलीज करती है और ब्रेन को रिलैक्स करती हैं। इससे आप अच्छा महसूस करते हैं और डिप्रेशन, एंग्जायटी, तनाव और चिंता से बचे रहते हैं। इसके साथ ही विंटर ब्लूज से बचने के लिए रोजाना 5 मिनट की धूप, 30 मिनट योगा, ब्रीथिंग एक्सरसाइज करें। इसके अलावा खुद को किसी ना किसी काम में व्यस्त रखने की कोशिश करें।

posted by -दीपिका पाठक