स्पीड ट्रेन से देखी रेलवे ट्रैक की क्षमता


उरई/जालौन। झांसी कानपुर रेलवे रेलवे ट्रैक का ट्रेन में लगी स्पेशल मशीन से स्पीड ट्रायल किया गया। कानपुर झांसी कानपुर सेक्शन में ओएमएस सिस्टम लगी मशीन से मंडलीय अभियंता सुधीर कुमार की अगुवाई में स्पीड ट्रायल किया गया। मंडलीय अभियंता सुधीर कुमार ने बताया कि झांसी से ट्रेन 11:45 बजे चली। इसका 125 की स्पीड से ट्रायल किया गया। एक दो जगह छोड़ी बहुत दिक्कत थी, वैसे ठीक मिला। बताया कि निरीक्षण यान में लगी ओएमएस सिस्टम (आइसोलेशन मानीटरिंग, सिस्टम) ट्रैक में मिलने वाले झटकों को रिकार्ड करती है। इस निरीक्षण से झांसी से कानपुर और कानपुर से झांसी का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण करके अपनी रिपोर्ट अपने उच्च अधिकारियों को भेज देंगे। 

उधर, झांसी कानपुर रेलवे ट्रैक के भुआ उरई सेक्शन में बुधवार की सुबह 6.15 बजे झांसी की ओर से आने वाली एर्नाकुलम बरौनी ट्रेन संख्या 02522 राप्तीसागर एक्सप्रेस जब रेलवे क्रासिंग नंबर 179 से गुजर रही थी, तभी अन्ना मवेशियों का झुंड ट्रैक पर आ गया। जब तक ट्रेन चालक एसपी राय ने ट्रेन को रोका, तब तक दो अन्ना मवेशी इंजन की चपेट में आकर मर गए। चालक ने उरई स्टेशन पर तैनात डिप्टी एसएस कुमार अंशुल को सूचना दी। तभी वहां पेट्रोलिंग कर रहे पेट्रोलमैन की मदद से चालक ने इंजन में फंसे मवेशियों को निकाला। इसके चलते ट्रेन करीब 10 मिनट खड़ी रही इसके बाद वह अपने गंतव्य की ओर रवाना हुई।